बीसीए की परीक्षा में आठ छात्र, उसमें भी 4 नकल में फंसे

Raipur News - बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन (बीसीए) पार्ट-1 की परीक्षा में नकल सामग्री के साथ चार नकलची पकड़े गए। राजधानी के एक...

Bhaskar News Network

Mar 16, 2019, 03:06 AM IST
Raipur News - chhattisgarh news eight students in the examination of bca also trapped in 4 imitation
बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन (बीसीए) पार्ट-1 की परीक्षा में नकल सामग्री के साथ चार नकलची पकड़े गए। राजधानी के एक परीक्षा केंद्र में कुछ आठ परीक्षार्थी थे। सभी भूतपूर्व छात्र के रूप में परीक्षा में शामिल हुए। इसमें से चार छात्रों के खिलाफ नकल का प्रकरण बना। नकल के लिए एक छात्र ने कंप्यूटर से चिट बनाई थी। इसमें लिखे गए अक्षरों का फोंट साइज इतना छोटा था कि इसे पढ़ने में अफसरों को भी परेशानी हुई। इसी तरह एक छात्र गाइड लेकर परीक्षा में बैठा था। उसे भी उड़नदस्ते की टीम ने पकड़ा।शुक्रवार को बीसीए पार्ट-1 के तहत इन्ट्रोडक्टरी इलेक्ट्रॉनिक्स का पेपर हुआ। राजधानी के एक परीक्षा में यह परीक्षा पहली पाली सुबह सात बजे से चल रही थी। इसी दौरान उड़न दस्ते की टीम परीक्षा केंद्र पहुंची। टीम को देखकर कुछ छात्र घबराएं।

जब इनकी जांच हुई तो चार छात्रों के पास चिट व गाइड मिली। इससे पहले शुक्रवार को हुई रविवि की वार्षिक परीक्षा में नकल के कुल सात प्रकरण बने। इसमें बीसीए के अलावा दो प्रकरण बीकॉम पार्ट-3 और एक मामला बीए पार्ट-2 में बना। इसमें बीकॉम पार्ट-3 की परीक्षा एक छात्र के पास मोबाइल मिला। यह फोन ऑन था। इसमें उड़न दस्ते को विषय से संबंधित जानकारी मिली। गौरतलब है कि रविवि की परीक्षाओं में पिछले साल नकल के करीब चार सौ मामले आए थे। इसमें सबसे अधिक नकल के मामले बीए में बने थे।

एक छात्र ने कंप्यूटर से बनाई चिट दूसरा गाइड लेकर बैठा पेपर देने

रविवि में लोक प्रशासन 18 अप्रैल का पेपर अब 10 मई को

पं.रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षा के तहत 18 अप्रैल को एमए. अंतिम लोक प्रशासन के तहत डेवलपमेंट एडमिनिस्ट्रेशन का पेपर होने वाला था। लोक सभा चुनाव की वजह से इस पेपर की तारीख बदली गई है। अब यह पेपर 10 मई को होगा। इससे पहले रविवि ने 16 से 25 अप्रैल तक होने वाली विभिन्न परीक्षाएं जैसे बीएससी, बीसीए, बीए, एमए इतिहास, अंग्रेजी, अर्थशास्त्र, राजनीति विज्ञान, भाषा विज्ञान, भूगोल, मनोविज्ञान, समाजशास्त्र, दर्शनशास्त्र, संस्कृत, एमकॉम समेत अन्य के तारीख में बदलाव किया। परीक्षा की तारीख में बदलाव होने के बाद परीक्षाएं 20 मई तक चलेगी।

आर्ट्स से संबंधित विषयों में ज्यादा नकल

रविवि की वार्षिक परीक्षा में पिछली बार सबसे अधिक नकल के मामले आर्ट्स से जुड़े विषयों में आए थे। बीए में ही में 193 प्रकरण बने थे। बीएससी में 102, बीकॉम में 35 नकलची पकड़े गए थे। इसके अलावा पीजी कक्षाअों में भी कई परीक्षार्थी नकल सामग्री के साथ पकड़े गए थे। इन परीक्षाओं में नकल के अलग-अलग तरह के मामले भी सामने आए थे। जैसे कई छात्र प्रश्नपत्र पर कुछ भी लिखने की वजह से फंसे थे।



कई छात्र मोबाइल के चक्कर में फंसे थे। गौरतलब है कि इस साल रविवि की वार्षिक परीक्षा छह मार्च से शुरू हुई है। अब तक नकल के संबंधित करीब 40 से 50 मामले सामने आ चुके हैं।

X
Raipur News - chhattisgarh news eight students in the examination of bca also trapped in 4 imitation
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना