हर टेबल पर माइक्रो ऑब्जर्वर रखेंगे नजर कुर्सी-टेबल पर नहीं बिछा सकेंगे कपड़ा

Bhaskar News Network

May 17, 2019, 07:31 AM IST

Raipur News - रायपुर | निर्वाचन अफसरों ने साफ कर दिया है कि केंद्रीय प्रतिनिधि के तौर पर केंद्रीय माइक्रो ऑब्जर्वर हर टेबल पर...

Raipur News - chhattisgarh news every table will have a micro observer the chair will not be able to sit on the table
रायपुर | निर्वाचन अफसरों ने साफ कर दिया है कि केंद्रीय प्रतिनिधि के तौर पर केंद्रीय माइक्रो ऑब्जर्वर हर टेबल पर सीधी नजर रखेंगे। हर राउंड के वोटों की गिनती का मिलान वे मतगणना पत्रक से करेंगे। इसमें किसी भी तरह का अंतर आता है तो वे दोबारा गिनती करवा सकते हैं। निर्वाचन से जुड़े लोग यह जान लें कि वे केवल निगरानी नहीं करेंगे बल्कि वोटों की गिनती के दौरान प्रत्यक्ष रूप से इसमें शामिल होंगे।

गुरुवार को रेडक्रॉस सभाकक्ष में माइक्रो आब्जर्वरों के पहले चरण की ट्रेनिंग भी दी गई। इसमें कलेक्टर डॉ. बसवराजु ने बताया कि माइक्रो आब्जर्वरों को डाक मतपत्रों, ईवीएम, वीवीपैट तथा मतगणना के विधिक प्रावधानों के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि माइक्रो आब्जर्वर गणना टीम का हिस्सा ही नहीं बल्कि वे केंद्रीय ऑब्जर्वर प्रतिनिधि के रूप में प्रत्येक टेबल में उपस्थित रहेंगे।

मतगणना केंद्र में अधिकारियों की कुर्सी के पीछे तौलिया या कपड़ा नहीं लगाया जाएगा। यही नहीं गिनती के लिए रखी गई मेज पर भी टेबल क्लॉथ नहीं बिछाई जाएगी। मतगणना के लिए आयोग की ओर से ये नया आदेश आया है। जिसमें कहा गया है कि जिन टेबलों पर रखकर ईवीएम और वीवीपैट के वोटों की गिनती होगी। वहां किसी तरह का कोई कपड़ा नहीं बिछाया जाएगा। ईवीएम और वीवीपैट मशीनों को खाली टेबलों पर ही रखा जाएगा। इसी बीच, हर विधानसभा क्षेत्र के पांच बूथों में वीवीपैट की पर्चियों के मिलान को देखते हुए नतीजों के अंतिम ऐलान में संभावित देरी को देखते हुए।

प्रदेश के तीन जिलों ने सात-सात टेबल और बढ़ाए जाने का प्रस्ताव मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय को भेजा है। कवर्धा, बलोदा बाजार और रायगढ़ जिलों ने 6 विधानसभा क्षेत्र जहां मतदान केंद्रों की संख्या ज्यादा है। उनके वोटों की गिनती के लिए 14 की जगह 21 टेबल लगाने का अनुरोध किया है। जिलों ने जो प्रस्ताव भेजा है उसके मुताबिक कवर्धा के 2 विधानसभा क्षेत्रों बलोदा बाजार के तीन और रायगढ़ के 1 विधानसभा क्षेत्र में गिनती के 21 टेबल रखे जाने से मतगणना के चक्र में कमी हो जाएगी। इन विधानसभा क्षेत्रों में फिलहाल की स्थिति में गिनती के चक्र 20 से ज्यादा हो रहे हैं। टेबल बढ़ाने से इसमें करीब पांच से सात चक्र कम हो जाएंगे।

दलीय नेताओं को बताई मतगणना की बारीकियां

इसके बाद कलेक्टर ने सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि और उम्मीदवारों की बैठक बुलाकर मतगणना के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई। कलेक्टर ने बताया कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतगणना संबंधी सभी जरूरी व्यवस्थाएं की जा रही हैं।

X
Raipur News - chhattisgarh news every table will have a micro observer the chair will not be able to sit on the table
COMMENT