जूस-लस्सी और आइसक्रीम पार्लरों में फिल्टर पानी से बनी बर्फ अनिवार्य, दूसरी मिली तो होगी कार्रवाई

Bhaskar News Network

May 17, 2019, 07:36 AM IST

Raipur News - राजधानी में पहली बार स्थानीय एजेंसियों ने गन्ना-रस, जूस और आईसक्रीम पार्लरों में ऐसी बर्फ रखना अनिवार्य किया है जो...

Raipur News - chhattisgarh news ice made with filter water in juice lassi and ice cream parlors second must be action
राजधानी में पहली बार स्थानीय एजेंसियों ने गन्ना-रस, जूस और आईसक्रीम पार्लरों में ऐसी बर्फ रखना अनिवार्य किया है जो फिल्टर पानी से बनती है और खाने लायक रहती है। अभी ज्यादातर दुकानों और पार्लरों में ऐसी बर्फ इस्तेमाल की जा रही है जिन्हें फैक्ट्री वाले चीजों को ठंडा रखने के लिए किसी भी तरह के पानी से थोक में बना रहे हैं। निगम, स्वास्थ्य विभाग और महिला व बाल विकास विभाग की संयुक्त टीमें अब इस अनिवार्यता का सख्ती के पालन कराएंगे। जहां भी जूस-अाइस्क्रीम पार्लरों में गैर फिल्टर पानी से बनी अखाद्य बर्फ इस्तेमाल होती दिखी, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

निगम कमिश्नर की अगुवाई में तीनों विभाग के अफसरों की गुरुवार को हुई बैठक में सहमति बनी कि अखाद्य बर्फ के इस्तेमाल को रोकने से ही कई तरह की बीमारियों से निजात मिल सकती है। ऐसी बर्फ के पिघलने से निकला पानी गंदा रहता है और यही दूषित पानी जूस, लस्सी या अाइस्क्रीम वगैरह को भी दूषित कर रहा है। जहां भी ऐसे केस मिलेंगे, उन दुकानदारों पर पहली बार में तो जुर्माना किया जाएगा। दूसरी बार भी पकड़े गए तो संबंधित सेंटर सील कर दिया जाएगा।

कंट्रोल रूम बनाया जाएगा

निगम मुख्यालय में कमिश्नर शिव अनंत तायल ने सभी विभागों को पीलिया, डेंगू, मलेरिया आदि से बचाव के लिए मिलकर अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। संयुक्त टीमें न सिर्फ लोगों को जागरुक करेंगी, बल्कि छापे मारकर खराब खाद्य व पेय पदार्थों के खिलाफ कार्रवाई भी करेंगी। तय किया गया कि जहां भी दूषित खाद्य व पेय पदार्थ और अखाद्य बर्फ मिलेगी, पूरी सामग्री तत्काल नष्ट कर दी जाएगी। इसके लिए रेहड़ी, होटल्स, रेस्तरां लगातार जांच के दायरे में रखे जाएंगे।

ऐसे छापों को नियंत्रित करने के लिए कंट्रोल रूम बनाया जा रहा है।

X
Raipur News - chhattisgarh news ice made with filter water in juice lassi and ice cream parlors second must be action
COMMENT