पिता से मिली स्वास्थ्य सेवा की प्रेरणा, 4 साल में हजार से ज्यादा लोगों का करवाया इलाज

Raipur News - राजधानी के अंबेडकर और एम्स अस्पताल में इलाज के लिए प्रदेश ही नहीं दूसरे राज्यों से भी लोग आते हैं। इनमें ज्यादातर...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:30 AM IST
Raipur News - chhattisgarh news inspiration of health care from father treatment of more than thousand people in 4 years
राजधानी के अंबेडकर और एम्स अस्पताल में इलाज के लिए प्रदेश ही नहीं दूसरे राज्यों से भी लोग आते हैं। इनमें ज्यादातर को अनजान शहर में किसी मरीज का इलाज कराने में बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अस्पताल के सिस्टम की जानकारी नहीं होने से उनको संबंधित डॉक्टर तक पहुंचने और जांच कराने में दिक्कतंे आती हैं। ऐसे मरीजों और परिजनों का सहयोग करने यह ग्रुप काम करता है। इससे जुड़े सदस्य परिवार की जिम्मेदारी निभाने के बाद लोगों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए दो से तीन घंटे का समय दान करते हैं। मरीजों के इलाज के लिए महिलाओं का यह ग्रुप हाथ बढ़ाता है। 35 से ज्यादा लोगों की आर्थिक मदद भी कर चुके हैं।

शहर के कई अस्पतालों में कर रहे लोगों की मदद

मरीजों के इलाज में हर पल साथ

महिलाओं ने चार साल पहले ग्रुप हेड द्वारा शुरु किए गए प्रयास में सहभागी बनने का निर्णय लिया। इसके बाद से अंबेडकर और एम्स में पर्ची कटाने और जांच के लिए जानकारी नहीं होने से भटकने वाले लोगों की मदद के लिए हाथ बढ़ाना शुरु किया। अब हर महीने 30 से 35 लोगों का इलाज में सहयोग करता है। डाक्टर्स द्वारा दी जा रही सलाह और जांच कराने में साथ देते हैं। चार साल में ग्रुप ने 16 सौ से ज्यादा मरीजों के इलाज में समय दान करके सहयोग किया।

हर माह 30 से ज्यादा लोगों को दे रहे समय


35 गंभीर मरीजों को आर्थिक सहायता भी

सदस्यों ने रुटीन तय करके टीम तैयार की है। जो दोनों प्रमुख अस्पतालों में ओपीडी के समय अस्पताल कैंपस में ही रहती है। इस दौरान जिनको परेशान देखते हैं। ऐसे लोगों की मदद करती हैं। अभी तक 35 से ज्यादा जरुरतमंदों को इलाज कराने में आर्थिक सहयोग भी किया है। ग्रुप के सदस्य इसके लिए आपस में हर महीने पैसे जमा करते हैं। इसे ही पीड़ितों के इलाज पर खर्च करते हैं।

भिक्षावृत्ति करने वाले बच्चों की मदद

महिलाएं भिक्षावृत्ति करने वाले बच्चों का जीवन संवारने के लिए भी काम करती है। रास्ते में मिलने वाले ऐसे बच्चों को सरकार की योजनाओं से जोड़ने के बाद एक अभिभावक की तरह जिम्मेदारी का निर्वहन महिलाएं खुद आपसी तालमेल से करती हैं। शहर की सड़कों से 17 ऐसे बच्चों को नशे की लत से छुटकारा दिलाने के बाद उनकों शिक्षा से जोड़ने की जिम्मेदारी निभाई।

X
Raipur News - chhattisgarh news inspiration of health care from father treatment of more than thousand people in 4 years
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना