सरकारी अस्पतालों का ऐसा है हाल

Raipur News - शुरूआत से ही मरीजों के प्रोसिजर के लिए ग्लब्स, सूचर्स और अन्य दवाएं लोकल पर्चेसिंग से खरीदी जा रही हैं। सीजीएमएससी...

Bhaskar News Network

Jul 13, 2019, 07:40 AM IST
Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
शुरूआत से ही मरीजों के प्रोसिजर के लिए ग्लब्स, सूचर्स और अन्य दवाएं लोकल पर्चेसिंग से खरीदी जा रही हैं। सीजीएमएससी से सप्लाई ही नहीं हो रही है। - डॉ. हेमंत शर्मा, उप अधीक्षक, डीकेएस अस्पताल

सूचर्स और ग्लब्स लोकल पर्चेसिंग से

DB star controversy

प्रदेश के सभी अस्पतालों में इलाज कराने के लिए मरीजों को सूचर्स (टांके के लिए धागा), डिस्पोजेबल ग्लब्स समेत अन्य दवाएं लोकल पर्चेसिंग से खरीदनी पड़ रही है। अस्पताल के जिम्मेदारों का कहना है कि सीजीएमएससी (दवा निगम) से इसकी सप्लाई नहीं हाे रही है। वहीं, सीजीएमएससी के जिम्मेदारों का कहना है कि हमें ऐसी कोई डिमांड ही नहीं मिली है।

मरीजों को खरीदना पड़ रहा ऑपरेशन में लगने वाला सामान

एसेंशियल ड्रग लिस्ट में शामिल दवाओं की भी नहीं कर पा रहे आपूर्ति

डीबी स्टार
राजधानी के दो बड़े अस्पतालों में ही ऑपरेशन में लगने वाली आवश्यक सामग्री मरीजों द्वारा खरीदवाए जाने का मामला देखा जा सकता है। प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल में कई वर्षों से एसेंशियल ड्रग्स में शामिल हजार से अधिक दवाओं में से सिर्फ 20 फीसदी दवाओं की ही सप्लाई की जा रही है। वहीं, डिस्पोजेबल ग्लब्स और सूचर्स लोकल पर्चेसिंग से खरीदे जा रहे हैं। कुछ इसी तरह के हालात 9 माह पूर्व खुले डीकेएस (दाऊ कल्याण सिंह सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल) में भी हैं। अस्पताल प्रबंधन इन दवाओं और सामग्रियों के अभाव में मरीजों के आयुष्मान कार्ड से ही इनकी लोकल पर्चेसिंग कर रहा है। वहीं, ईडीएल के अलावा अन्य दवाओं के लिए प्रबंधन को टेंडर तक करने की अनुमति नहीं दी जा रही है।

पूरी दवाएं नहीं मिलती

हमें डिमांड ही नहीं मिला है। अभी कुछ दवाओं की डिमांड आई हैं। टेंडर प्रक्रिया में दो से तीन माह का समय लगता है, जैसे ही प्रक्रिया पूरी होगी सप्लाई कर दी जाएगी। - भुवनेश यादव, एमडी, सीजीएमएससी

मांग पत्र में नहीं मांगी गई ऑपरेशन सामग्री


कैंसर की दवाएं सिर्फ 6 फीसदी

अंबेडकर अस्पताल में बीते वर्ष सामान्य स्तर की मांगी गई दवाओं में से महज 26 फीसदी की ही सप्लाई की गई है। वहीं, कैंसर समेत अन्य विशेष दवाओं के लिए 6 फीसदी की ही सप्लाई हो पाई है। इसी तरह आवश्यक उपकरणों के लिए भी इसी तरह सीजीएमएससी की बाट जोहनी पड़ रही है।

ग्लब्स और धागा भी खरीदवा रहे

प्रदेश का पहला सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल होने के नाते डीकेएस में कई गंभीर बीमारियों का इलाज किया जाता है। जिनके लिए दवाओं की मांग करने के बावजूद सीजीएमएससी सप्लाई नहीं कर पा रहा है। ऐसे में अस्पताल प्रबंधन अपने स्तर पर ही लोकल पर्चेसिंग के जरिए दवाओं की खरीदी कर मरीजों का इलाज कर रहा है।

Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
X
Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
Raipur News - chhattisgarh news this is the case of government hospitals
COMMENT