अंतरराज्यीय गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार

Bhaskar News Network

May 17, 2019, 07:36 AM IST

Raipur News - रायपुर | राजधानी में आलमारी का लॉक सुधारने के बहाने लाखों के जेवर उड़ाने वालों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस...

Raipur News - chhattisgarh news two members of inter state gang arrested
रायपुर | राजधानी में आलमारी का लॉक सुधारने के बहाने लाखों के जेवर उड़ाने वालों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस वारदात की जांच के बाद अंतरराज्यीय गिरोह के दो सदस्य पकड़े गए है। दोनों चोर राजस्थान के हैं। आरोपियों के पास से नौ लाख के जेवर और एक बलेनो कार जब्त की गई है। सिटी एएसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि आरोपियों ने पंडरी अशोका विहार में जायसवाल परिवार के यहां आलमारी का ताला ठीक करने का बहाने वारदात को अंजाम दिया था। दोनों आरोपी गुरुदयाल और बलबीर सिंह लॉक बनाने के लिए उनके घर पहुंचे थे। अलमारी से उसी वक्त सोने-चांदी के जेवरात पार करके फरार हो गए। एक आरोपी को इंदौर से और दूसरे को राजस्थान से गिरफ्तार किया गया है। दोनों आपस में चाचा-भतीजे हैं। दोनों ने गुजरात में भी चोरी की कई वारदात को अंजाम दिया है। वहां भी कोर्ट में इनके खिलाफ चालान पेश किए गए हैं। आरोपियों ने 2016 में भी तेलीबांधा में भी चोरी की घटना को अंजाम देने की बात कबूल की है।

चोरी के पैसों से ही आरोपियों ने कार खरीदी थी। गौरतलब है कि पिछले महीने दो व्यक्ति आलमारी रिपेयर करने के लिए पंडरी में एक रिटायर्ड अधिकारी संजय जायसवाल के घर आए। आरोपियों ने लॉक खराब होने का झांसा दिया और चाबी को आलमारी में ही फंसा दिए। दूसरे दिन आकर लॉक बनाने का बहाना करके वहां से चले गए। दूसरे दिन जब आरोपी नहीं आए तो अधिकारी ने आलमारी बनाने वाले को बुलाया। युवक ने जब आलमारी खोली तो देखे कि लॉकर से जेवर गायब हैं। इनमें 20 तोला पैतृक जेवर, चार कीमती पत्थर, 17 ताेला चांदी गायब शामिल थी। दोनों आरोपियों का कॉलोनी में लगे कैमरे में फुटेज मिला था।

लॉक सुधारने के बहाने की कई चोरियां, 9 लाख के जेवर जब्त

X
Raipur News - chhattisgarh news two members of inter state gang arrested
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543