Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» Daughter Of Truck Driver Got 7th Rank In CG Board Class 12th

ट्रक ड्राइवर की बेटी 12वीं के रिजल्ट में टॉप-10 में, सुनकर पिता के छलके आंसू

सरस्वती शिशु मंदिर डोमनहिल की छात्रा संध्या सिंह सीजी बोर्ड के टॉप-10 की लिस्ट में सातवें रैंक पर है।

अमित पांडेय | Last Modified - May 09, 2018, 05:33 PM IST

  • ट्रक ड्राइवर की बेटी 12वीं के रिजल्ट में टॉप-10 में, सुनकर पिता के छलके आंसू
    +1और स्लाइड देखें
    संध्या अपनी मां के साथ।

    चिरमिरी।सरस्वती शिशु मंदिर डोमनहिल की छात्रा संध्या सिंह सीजी बोर्ड के टॉप-10 की लिस्ट में सातवें रैंक पर है। हमेशा की तरह संध्या ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन बरकरार रखा है। स्कूल में हमेशा अव्वल रहने वाली संध्या आईएस बनना अपने माता-पिता का सिर फख्र से ऊंचा करना चाहती हैं। संध्या के पिता ट्रक ड्राइवर हैं। जैसे ही उन्होंने ये खबर सुनी उनका गला भर आया। बोले बेटी ने समाज में कद ऊंचा कर दिया।

    - सोनावनी डोमनहिल निवासी अनिल सिंह-देवंती देवी की बड़ी बेटी हैं। उनकी छोटी बहन ग्यारहवीं में है और छोटा भाई इंदौर में अपने रिश्तेदार के घर रहकर पढ़ाई कर रहा है। संध्या के पिता ने बताया कि वो बचपन से होनहार रही है। वो सीजी बोर्ड 10वीं में भी प्रदेश के टॉप टेन में रही है, जिसमें उसने 10वां रैंक हासिल किया था।

    - संध्या जिस परिवार से है, उसकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। निम्न मध्यम वर्गीय परिवार में पिता ट्रक पर ड्राइवरी का काम करते हैं। जिससे महीने में 8 से 10 हजार रुपए की आय हो जाती है। मां सामान्य गृहिणी हैं। इसी में दोनों बेटियों को पढ़ा रहें है। जिस घर में संध्या परिवार संग रहती है वह घर मिट्टी का खपडै़ल वाला है।
    - चर्चा के दौरान संध्या ने बताया कि स्कूल के नोट्स को ही घर पर आकर ध्यान से पढ़ती थी। किसी प्रकार का कोई टेंशन न लेते हुए रुक-रुककर 6 से 7 घंटे घर पर पढ़ाई करती थी। इसके अलावा ट्यूशन भी लिया। पढ़ाई के बीच में मां के कामों में भी हाथ बंटा लिया करती थी। सामान्य तरीके से ही तैयारियां की है। उसने अपनी सफलता का श्रेय मां और स्कूल के शिक्षकों को दिया।
    - संध्या कहती हैं, घर की माली हालत अच्छी नहीं है। आईएस बनने का सपना है। ऐसे में राह आसान नहीं है, लेकिन नामुमकिन भी नहीं है। पढ़ाई के साथ जॉब भी करना पड़ेगा तो करूंगी। कोशिश होगी कि मेरे सपने न टूटें। मां-पिता के लिए कुछ करना चाहती हूं।


  • ट्रक ड्राइवर की बेटी 12वीं के रिजल्ट में टॉप-10 में, सुनकर पिता के छलके आंसू
    +1और स्लाइड देखें
    संध्या सीजी बोर्ड में 7वें रैंक पर हैं।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×