--Advertisement--

एम्स में दो पाली में इलाज की ड्यूटी से डॉक्टरों का नाराजगी भरा चैट, नोटिस

Raipur News - अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स में ओपीडी दो पाली में किए जाने मरीजों को तो बड़ी राहत मिल रही है, लेकिन यहां...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 03:01 AM IST
Raipur News - doctors dissatisfied with the duty of treatment in two shift in aiims notice
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स में ओपीडी दो पाली में किए जाने मरीजों को तो बड़ी राहत मिल रही है, लेकिन यहां के डाक्टरों का एक तबका खासा नाराज है। डाक्टरों ने इसे लेकर वाट्सएप ग्रुप में चैटिंग के दौरान टिप्पणी कर दी। एम्स के डाक्टरों के ग्रुप की चैटिंग प्रबंधन तक पहुंच गई। प्रबंधन ने डाक्टरों को नोटिस जारी कर इसे सिविल आचरण के के विपरीत बताते हुए ऐसी टिप्पणी से बचने की नसीहत दी है। प्रबंधन की इस नोटिस से खासा बवाल मचा है। डाक्टर भी हैरान है कि ग्रुप में की गई टिप्पणी प्रबंधन तक कैसे पहुंच गई।

डॉक्टरों के वाट्सएप ग्रुप में कुछ ने ये सवाल उठाया था कि ओपीडी बढ़ाने से मरीजों को ज्यादा राहत नहीं मिलने वाली है, जब तक कि ऑपरेशन ज्यादा से ज्यादा नहीं होंगे। डाक्टरों का इशारा था कि नए ऑपरेशन थियेटर तैयार हैं, लेकिन वहां सर्जरी चालू नहीं की जा रही है, जबकि उनका लोकार्पण भी हो चुका है। अगर वहां सर्जरी चालू कर दी जाए ताे मरीजों की वेटिंग लिस्ट कम होगी और उन्हें ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। डाक्टरों का तर्क है कि ओपीडी में केवल मरीजों की जांच होती है, लेकिन ऑपरेशन थियेटर में एक तरह से मर्ज को पूरी तरह से खत्म किया जाता है। ऐसी दशा में ऑपरेशन थियेटर चालू करना भी प्राथमिकता होनी चाहिए। डाक्टरों ने एक तरह से ओपीडी दो पाली में किए जाने के फैसले से नाराज होकर ये टिप्पणी की है। हालांकि उन्होंने ये सार्वजनिक नहीं की, उन्होंने वहीं के डाक्टरों के ग्रुप में अपना विचार व्यक्त किया है।

11 ऑपरेशन थियेटर बंद पड़े हैं एम्स में

एम्स में वर्तमान में 18 ऑपरेशन थिएटर का लोकार्पण किया गया है, लेकिन सर्जरी केवल सात ओटी में की जा रही है। ओटी कांप्लेक्स में 10 ओटी का लोकार्पण 24 नवंबर को एम्स के प्रेसीडेंट डॉ. जार्ज डिसूजा ने किया। इसके पहले 8 सितंबर को दो ओटी की शुरुआत एम्स भुवनेश्वर की डायरेक्टर डॉ. गीतांजलि ने की। 11 अगस्त को भी दो ओटी का लोकार्पण किया गया था। 24 सितंबर को लोकार्पित ओटी को गायनी विभाग को आवंटित किया गया था। इसमें अभी मरीजाें का ऑपरेशन शुरू नहीं हो सका है।

ये लिखा है- किसी भी फोरम में प्रतिकूल टिप्पणी आदेश की अवहेलना

एम्स अस्पताल के प्रशासनिक अधिकारी वी. सीतारामू ने डॉक्टरों को नाेटिस जारी किया। उन्हें नोटिस में कहा है कि अस्पताल में कोई भी आदेश डायरेक्टर व मेडिकल अधीक्षक से अनुमोदन लेने के बाद ही जारी किया जाता है। ऐसे में किसी भी फोरम में प्रतिकूल टिप्पणी करना उच्चाधिकारियों के आदेश की अवहेलना है। ऐसे में कोई भी प्रशासन से जारी परिपत्रों व आदेशों पर टिप्पणी करने से बचें।

1700 का हो रहा इलाज

एम्स में जब से ओपीडी दो पालियों में की जा रही है, 1700 से ज्यादा मरीजों का इलाज किया जा रहा है। प्रबंधन का दावा है कि जो मरीज पंजीयन नहीं करवा पाते थे और इलाज कराए बिना लौट जाते थे, उन्हें बड़ी राहत मिली है। उनके लिए सुबह के अलावा अब दोपहर का भी विकल्प है।

सुबह साढ़े 8 व दोपहर डेढ़ बजे पंजीयन

पहली पाली में ओपीडी सुबह साढ़े 8 बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक व दूसरी पाली में दोपहर दो से शाम साढ़े 4 बजे तक कर दी गई है। दोपहर एक से दो बजे तक लंच रहेगा। शुक्रवार व शनिवार को ओपीडी केवल सुबह साढ़े 8 से दोपहर 1 बजे तक रहेगी। सोमवार से गुरुवार तक मरीज सुबह साढ़े 8 से सुबह 11 बजे व दोपहर डेढ़ बजे से तीन बजे तक ही पंजीयन करवा सकते हैं।

1700 का हो रहा इलाज

एम्स में जब से ओपीडी दो पालियों में की जा रही है, 1700 से ज्यादा मरीजों का इलाज किया जा रहा है। प्रबंधन का दावा है कि जो मरीज पंजीयन नहीं करवा पाते थे और इलाज कराए बिना लौट जाते थे, उन्हें बड़ी राहत मिली है। उनके लिए सुबह के अलावा अब दोपहर का भी विकल्प है।

सुबह साढ़े 8 व दोपहर डेढ़ बजे पंजीयन

पहली पाली में ओपीडी सुबह साढ़े 8 बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक व दूसरी पाली में दोपहर दो से शाम साढ़े 4 बजे तक कर दी गई है। दोपहर एक से दो बजे तक लंच रहेगा। शुक्रवार व शनिवार को ओपीडी केवल सुबह साढ़े 8 से दोपहर 1 बजे तक रहेगी। सोमवार से गुरुवार तक मरीज सुबह साढ़े 8 से सुबह 11 बजे व दोपहर डेढ़ बजे से तीन बजे तक ही पंजीयन करवा सकते हैं।

X
Raipur News - doctors dissatisfied with the duty of treatment in two shift in aiims notice
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..