--Advertisement--

पंडित रविशंकर शुक्ल यूनिवर्सिटी का दीक्षांत इस साल होगा या नहीं, इस पर संशय

रविवि का पहला दीक्षांत साल 1966 में हुआ था। इसके बाद कुछ बरस तक कार्यक्रम नहीं हो पाया।

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 07:38 AM IST

रायपुर. पं.रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के दीक्षांत को लेकर अब संशय छा गया है। इस साल यह कार्यक्रम होगा कि नहीं, फिलहाल यह तय नहीं है। जबकि राज्य के राजकीय विश्वविद्यालयों में कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता विश्वविद्यालय में दीक्षांत समारोह अगले महीने होगा। रविवि में अब तक 23 बार दीक्षांत समारोह आयोजित किए जा चुके हैं।


1966 में हुआ था पहला दीक्षांत समारोह

रविवि का पहला दीक्षांत साल 1966 में हुआ था। इसके बाद कुछ बरस तक कार्यक्रम नहीं हो पाया। दो-तीन साल के अंतराल के बाद यह कार्यक्रम हुए। साल 2001 और 2002 तक ऐसा ही चलता रहा। 2003 के बाद से यह कार्यक्रम प्रतिवर्ष आयोजित किया जा रहा है। यानी करीब 15 साल यह लगातार हो रहा था। लेकिन इस बार दीक्षांत को लेकर संशय की स्थिति बनी है। पूर्व कुलपति डॉ.एसके.पांडेय का कार्यकाल खत्म होने के पहले इसकी की तैयारी थी। मामला कार्यपरिषद तक में गया तो कुछ सदस्यों ने परीक्षा का हवाला देकर विरोध किया। इस वजह से मार्च में होने वाला कार्यक्रम नहीं हो पाया।

अभी रविवि की वार्षिक परीक्षा चल रही है, जो यह 17 मई तक चलेगी। इसके बाद सेमेस्टर एग्जाम मई-जून में होगी। रविवि में दीक्षांत को लेकर कोई तैयारी नहीं है। रिजल्ट के बाद विचार करेंगे। तय हुआ तो इस साल या जनवरी-फरवरी 2019 में आयोजन होगा। यहां दो साल के अनुसार छात्रों के बीच गोल्ड मेडल बांटे जाएंगे। पिछला 9 मई 2017 को हुआ था।

पत्रकारिता विवि का दीक्षांत 16 मई को, उपराष्ट्रपति होंगे शामिल

पत्रकारिता विवि का दीक्षांत 16 मई को होगा। इसका आयोजन पं. दीनदयाल उपाध्याय आडिटोरियम में किया जाएगा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि उपराष्ट्रपति एम. वैंकेया नायडू मुख्य होंगे। इसके अलावा मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, उच्च शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय समेत अन्य लोग शामिल होंगे। यहां के दीक्षांत में भी इस बार परिधान बदला गया है। परंपरागत भारतीय वेशभूषा ड्रेस कोड के रूप में निर्धारित की गई है। कार्यक्रम में साल 2016 एवं 2017 के 450 छात्रों को डिग्री दी जाएगी। इसके अलावा मेरिट में आने वाले विद्यार्थियों को गोल्ड मेडल दिए जाएंगे।