--Advertisement--

जेल में हुई दुश्मनी, देर रात घर में आकर किया मर्डर

जख्मी कर जश्न का फोन भी ले गए हमलावर

Danik Bhaskar | Jun 30, 2018, 08:45 AM IST
मृतक मनप्रीत। -फाइल फाेटो मृतक मनप्रीत। -फाइल फाेटो

भोगपुर (पंजाब). चार साल पहले सेंट्रल जेल कपूरथला में शुरू हुई दुश्मनी के कारण विक्रमजीत उर्फ विक्की ने अपने साथियों के साथ बुधवार रात एक बजे जश्न कुमार के घर में घुसकर हमला कर दिया। हमले में 25 साल का जश्न कुमार और उसका दोस्त मनप्रीत सिंह गंभीर रूप से जख्मी हो गए। मनप्रीत को सिविल अस्पताल जालंधर लाया गया जहां पर जख्मों की ताव न सहते हुए उसने दम तोड़ दिया। काला बकरा अस्पताल में भर्ती जश्न की हालत खतरे से बाहर है। सब इंस्पेक्टर सुरजीत सिंह ने बताया कि जश्न के बयान के आधार पर विक्रमजीत, मनदीप सिंह, गुलशन कुमार, रुबी, गोपी और इनके पांच अन्य साथियों के खिलाफ कल का केस दर्ज कर जांच शुरू की है। सभी आरोपियों की तलाश में रेड की जा रही है।

धारदार हथियारों से किया हमला: पुलिस को दिए बयान में जश्न ने कहा कि बुधवार रात एक बजे मामा रवि का साला विक्रमजीत घर आ गया और दरवाजा खटखटाने लगा। जब उससे कहा कि इतनी देर रात क्यों अाया है तो बोला, आज तुमसे मिलकर ही जाना है। इतने में मनदीप सिंह उर्फ मीपा, गुलशन कुमार, रुबी, गोपी और पांच अनजान लोगों ने घर में जबरन घुसकर तेजधार हथियारों से हमला कर दिया। शोर मचने पर आस-पड़ोस के लोग इकट्ठा हुए तो आरोपी जश्न और उसकी लिव इन पार्टनर दविंदर कौर का मोबाइल उठाकर अपनी गाड़ियों में भाग निकले।

कपूरथला जेल में थे कैद, तभी से रंजिश: जश्न, मनदीप सिंह मीपा, गुलशन कुमार और विक्रमजीत सिंह विक्की इकट्ठे सेंट्रल जेल कपूरथला में भोगपुर पुलिस द्वारा दर्ज केस में बंद थे। जश्न के मुताबिक तभी से विक्रमजीत उसके साथ रंजिश रखने लगा। इसके तहत साजिशन घर में घुसकर हमला किया। मनप्रीत सिंह इन दिनों अपने दोस्त जश्न के साथ रह रहा था। पुलिस ने विक्रमजीत सिंह उर्फ विक्की, मनदीप सिंह उर्फ मीपा, गुलशन कुमार सभी निवासी होशियारपुर, रुबी निवासी भोगपुर और गोपी निवासी टांडा और पांच अनजान साथियों पर मामला दर्ज किया है।