--Advertisement--

उपन्यासकार और दूरदर्शन के पूर्व उपमहानिदेशक तेजिंदर सिंह गगन का रायपुर में निधन, मुख्यमंत्री ने जताया शोक

रायपुर में ही ली अंतिम सांस, मुख्यमंत्री ने निधन पर जताया शोक

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 11:53 AM IST
उपन्यासकार तेजिंदर सिंह गगन (फ उपन्यासकार तेजिंदर सिंह गगन (फ

रायपुर। प्रदेश के सुप्रसिद्ध उपन्यासकार और दूरदर्शन के पूर्व उपमहानिदेशक तेजिंदर सिंह गगन का बुधवार रात निधन हो गया। उनके परिवार में पत्नी दलजीत कौर और उनकी बेटी समीरा हैं, जो पेशे से पत्रकार हैं। इसके अलावा उनकी बहन डॉ रूपिंदर दीवान रायपुर विज्ञान महाविद्यालय में प्रोफेसर हैं।

- स्थानीय अखबार से अपने करियर की शुरुआत करने वाले 66 वर्षीय तेजिंदर सिंह बाद में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में अधिकारी रहे अौर फिर आकाशवाणी व दूरदर्शन में लंबे समय तक कार्य करते रहे। वो अपने गृहनगर रायपुर में ही दूरदर्शन से सेवानिवृत्त हुए और उसके बाद से प्रदेश के सांस्कृतिक जगत में लगातार सक्रिय रहे। वे छत्तीसगढ़ प्रगतिशील लेखक संघ की राज्य कार्यकारिणी के सदस्य भी थे।

- मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने उनके निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि राजधानी रायपुर निवासी स्वर्गीय गगन राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त वरिष्ठ कवि और उपन्यासकार थे। उन्होंने मानवीय संवेदनाओं पर आधारित अपनी रचनाओं के माध्यम से देश और समाज की विभिन्न समस्याओं को रेखांकित किया। जनता को उन पर चिंतन करने और समाज को सही दिशा में चलने की प्रेरणा दी।

साहित्य में योगदान

- उपन्यासकार तेजिंदर सिंह गगन ने दूरदर्शन के रायपुर, अंबिकापुर, संबलपुर, नागपुर, देहरादून, चेन्नई व अहमदाबाद आदि केंद्रों में अपनी सेवाएं दीं। इसके साथ ही उन्होंने उपन्यास काला पादरी, डायरी सागा-सागा, सीढ़ीयों पर चीता काफी चर्चित हुए।