Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» Heat Wave From Rajasthan Coming In Chhattisgarh

आसमान में छाए बादल, तेज आंधी के साथ बारिश, मौसम हुआ कूल

मंगलवार को शाम 4 बजे के बाद राजधानी वासियों को तेज धूप और गर्मी से मिली राहत।

dainikbhaskar.com | Last Modified - May 01, 2018, 05:02 PM IST

  • आसमान में छाए बादल, तेज आंधी के साथ बारिश, मौसम हुआ कूल
    +2और स्लाइड देखें
    राजधानी में शाम 4 बजे के बाद मौसम बदला, तेज आंधी।

    रायपुर।राजधानी में सुबह से ही तेज धूप और चिपचिपी गर्मी से लोगों को राहत मिली है। शाम 4 बजते-बजते आसमान में काले बादल छा गए और धूल भरी आंधी चलने के बाद बारिश भी होने लगी है। एक ओर मौसम के इस बदले मिजाज से लोगों को सुकून मिला है वहीं दूसरी ओर धूल भरी तेज आंधी और बारिश ने जन-जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है।

    - राजधानी में इस साल अप्रैल में लगातार बादल-बारिश के हालात रहे। मौसम को प्रभावित करने वाले करीब दर्जनभर सिस्टम एक के बाद एक बनते गए। ज्यादातर सिस्टम उत्तरी भारत से लेकर छत्तीसगढ़ के आसपास तक रहे हैं। इसका प्रभाव भी रहा। बहुत ज्यादा बारिश नहीं हुई, लेकिन सिस्टम के प्रभाव से समुद्र से लगातार नमी आती रही और इसी वजह से दोपहर बाद या शाम को रायपुर में तेज हवा के साथ बारिश भी हुई।

    - इसका असर अगले दिन के तापमान पर पड़ा। लिहाजा अगले एक-दो दिन आसमान में बादल छाने की वजह से तापमान में वृद्धि ही नहीं हो पाई। इसलिए इस पूरे सीजन में एक भी बार तापमान 42 डिग्री से ऊपर नहीं पहुंचा। सोमवार को मौसम साफ था और रेगिस्तान से आ रही शुष्क हवा के कारण पूरी राजधानी तपी। सुबह के समय हवा में थोड़ी नमी थी। मौसम विभाग के रिकार्ड के अनुसार आर्द्रता 45 फीसदी दर्ज की गई, लेकिन शाम तक आर्द्रता घटकर महज 9 फीसदी रह गई। इसकी वजह शुष्क या रेगिस्तानी हवा का प्रभाव बहुत अधिक होना है।

    बस्तर-सरगुजा में रहेंगे बादल


    - पूर्वी बिहार तथा आसपास पश्चिम बंगाल व झारखंड के ऊपर 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर एक चक्रवात बना हुआ है। एक द्रोणिका पंजाब से लेकर दक्षिण-पूर्व मध्यप्रदेश तक बनी हुई है। इस वजह से उत्तरी और राज्य के दक्षिणी हिस्से में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बारिश या बौछारें पड़ने की संभावना है।


    तापमान कम, फिर भी गर्मी


    - राजधानी में इस साल अप्रैल में तापमान अपेक्षाकृत कम रहा है। हालांकि महीने के आखिरी दिन 43 डिग्री पहुंचकर तापमान ने कुछ बराबरी कर ली है। पिछले दस साल में एक बार ही पारा 45 डिग्री पहुंचा था।

    - अप्रैल में आमतौर पर 42 से 43 डिग्री के बीच ही अधिकतम पहुंचता है, लेकिन बाकी दिन यानी महीने के 29 दिनों में तापमान सामान्य के आसपास रहा है। लालपुर मौसम केंद्र के निदेशक डा. प्रकाश खरे के अनुसार छत्तीसगढ़ में मानसून की स्थिति का पता जून में चलेगा, जब शार्ट रेंज फोरकास्ट जारी किया जाएगा।

    फोटो : भूपेश केसरवानी

  • आसमान में छाए बादल, तेज आंधी के साथ बारिश, मौसम हुआ कूल
    +2और स्लाइड देखें
    बारिश ने मौसम किया कूल।
  • आसमान में छाए बादल, तेज आंधी के साथ बारिश, मौसम हुआ कूल
    +2और स्लाइड देखें
    रायपुर में अप्रैल का आखिरी दिन काफी गर्म रहा।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×