--Advertisement--

सीने में दर्द से तड़प रहे ग्रामीण को जवानों ने स्ट्रेचर पर दुर्गम इलाके से 3 किमी दूर पहुंचाया अस्पताल

तेज बारिश के चलते नहीं पहुंच पाई एंबुलेंस, कोंडागांव जिले के धुर नक्सल प्रभावित मर्दापाल से दस किमी दूर की घटना।

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 07:18 PM IST
मरीज को स्ट्रेचर पर ले जाते जव मरीज को स्ट्रेचर पर ले जाते जव

कोंडागांव। नक्सल प्रभावित इलाके में एक 65 साल के ग्रामीण के सीने में तेज दर्द होने पर आईटीबीपी के जवान उसे स्ट्रेचर पर लेकर दौड़ पड़े। दुर्गम इलाके में पथरीली जमीन और जगह-जगह बहते नाले को पार करते हुए जवान ग्रामीण को एंबुलेंस तक ले गए। वहां से उसे आईटीबीपी कैंप स्थित अस्पताल पहुंचाया गया। डॉक्टरों ने बताया कि ग्रामीण को एन्जेना की समस्या थी। जवान यदि हौसला न दिखाते तो बचाना मुश्किल था। फिलहाल उसका इलाज जिला अस्पताल कोंडागांव में चल रहा है।

- बुधवार को हड़ेली के रहने वाले शंकर के सीने में तेज दर्द होने लगा। एंबुलेंस के लिए कैंप में खबर दी गई, लेकिन वो 3 किमी पहले ही फंस गई और उसके घर तक नहीं जा सकी। फिर उसके घर आईटीबीपी के जवान पहुंचे और उसे ऑक्सीजन लगाकर स्ट्रेचर से कंधे पर ही उठा लिया। 6 जवान बारी-बारी से लेकर उसे 3 किमी दूर एंबुलेंस तक ले गए।

- वहां से उसे मर्दापाल कैंप अस्पताल पहुंचाया गया। गुरुवार को सुबह ग्रामीण को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। कैंप में ग्रामीण का इलाज करने वाले डाॅ. ई. हरिष्या ने बताया कि शंकर को एन्जेना की समस्या थी। उसकी हालत गंभीर थी। यदि देर होती तो जान भी जा सकती थी।