--Advertisement--

पिछले बोर्ड टॉपरों को देने थे 74 लैपटॉप इस साल के नतीजे आने को, पर नहीं मिले

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 06:01 AM IST

पहले दसवीं के छात्रों को दस से 25 हजार रुपए और 12वीं के टॉपरों को एक लाख रुपए के पुरस्कार का प्रावधान था।

Laptop not gettintg last year board toppers

रायपुर. पिछली बार दसवीं-बारहवीं के टॉप-10 लिस्ट में जगह बनाने वाले 74 छात्रों को लैपटॉप देने की घोषणा सरकारी फाइलों में बुरी तरह फंस गई है। माध्यमिक शिक्षा मंडल (बोर्ड) ने पिछले साल होनहार छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए स्कॉलरशिप और लैपटॉप का फार्मूला लांच किया था। स्कॉलरशिप की राशि छात्रों को बैंक खातों से दे गई गई, लेकिन लैपटॉप अटक गया।

10 दिन में आएंगे इस साल के बोर्ड के नतीजे

हालात ये हैं कि 10 दिन में इस साल के बोर्ड के नतीजे आ जाएंगे, लेकिन पिछले साल के लैपटॉप का अता-पता नहीं है। पता चला है कि शिक्षा विभाग ने लैपटॉप खरीदने वाली एजेंसी को लैपटॉप का पेमेंट भी कर दिया है, लेकिन मामला वहीं अटका है।


दावा- 38 लाख रुपए मंजूर, फिर भी लैपटॉप खरीदी फाइनल नहीं

लैपटॉप के लिए करीब कुछ महीने पहले माशिमं ने प्रस्ताव बनाकर सरकारी एजेंसी चिप्स को भेजा था। अफसरों का दावा है कि 38 लाख रुपए मंजूर भी कर दिए गए, लेकिन एजेंसी ने लैपटॉप खरीदी फाइनल नहीं की है। बोर्ड अफसरों के मुताबिक जल्दी ही लैपटॉप खरीदकर छात्रों को दिए जा सकते हैं। लेकिन वे तारीख नहीं बता पा रहे हैं। यह लैपटॉप दसवीं में 37 और बारहवीं में 37 विद्यार्थियों बांटा जाना है।


पहले दसवीं के छात्रों को दस से 25 हजार रुपए और 12वीं के टॉपरों को एक लाख रुपए के पुरस्कार का प्रावधान था। पिछले साल योजना बदलते हुए टॉप-10 में शामिल दसवीं के छात्रों को 20 महीने तक 5-5 हजार स्कॉलरशिप और बाहरवीं के लिए दस महीने तक 10-10 हजार रुपए देने का प्रावधान है।

राजभवन में होगा सम्मान
बोर्ड के टॉपरों का सम्मान राजभवन में होगा। माशिमं के अफसरों का कहना है कि लैपटॉप आने के बाद यह कार्यक्रम होगा। पुनर्मूल्यांकन के बाद पिछले साल दसवीं के टॉपर्स की संख्या 33 और 12वीं में 26 हो गई। 74 छात्रों का सम्मान होगा।

X
Laptop not gettintg last year board toppers
Astrology

Recommended

Click to listen..