Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» दो साल से पुलिया टूटी, 10 फीट नीचे गिरने से साइकिल सवार की मौत

दो साल से पुलिया टूटी, 10 फीट नीचे गिरने से साइकिल सवार की मौत

देवभोग| मुढगेलमाल-कुहीमाल के बीच पीएमजीएसवाई विभाग द्वारा बनाई गई पुलिया दो साल से टूटी पड़ी है। साइकिल सवार के...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 02, 2018, 02:00 AM IST

देवभोग| मुढगेलमाल-कुहीमाल के बीच पीएमजीएसवाई विभाग द्वारा बनाई गई पुलिया दो साल से टूटी पड़ी है। साइकिल सवार के ध्यान नहीं देने से 10 फीट गहरी पुलिया के नीचे गिरने से मौत हो गई।

अमलीपदर थाना क्षेत्र के कुहीमाल मुढेगेलमाल मार्ग पर क्षतिग्रस्त पुलिया की खाई में सुबह शव देख इलाके में अफरा-तफरी मच गई। कोटवार की सूचना पर अमलीपदर थाना प्रभारी नरेंद्र साहू मौके पर पहुंचकर शव की शिनाख्त किए। पुलिस ने बताया कि शव साइडोंगरी निवासी चरण सिंह ओटी (45) का है, जो देर शाम घर से गांव से कुहीमाल के लिए निकला था। रात को घर लौटते वक्त टूटे पुल का अंदाजा नहीं लगा सका होगा, जिसके कारण क्षतिग्रस्त पुल के नीचे 10 फीट गहरी खाई में गिर गया। सिर पर चोंट के निशान थे, खून भी बह गया था। देर रात होने के कारण समय पर उपचार नहीं मिला, जिससे उसकी मौत हो गई। शव का पीएम करवा कर परिजनों को सौंप दिया गया है। थाना प्रभारी ने बताया कि केस दर्ज कर जांच की जा रही है।

स्वीकृत हो चुका है नया पुल: पीएमजीएसवाई के ईई प्रदीप वर्मा ने बताया कि नए पुल के लिए 16 लाख रुपए की स्वीकृति मिल गई है। टैंडर भी जारी कर दिया गया है। विभागीय प्रक्रिया पूरी होते ही निर्माण कार्य शुरू करा दिया जाएगा। वहीं क्षतिग्रस्त स्थल पर बकायदा सूचना बोर्ड लगवाया गया था, डायवर्सन मार्ग भी बनाया गया था। पिछली बारिश में हो सकता है दोनों बह गए होंगे, जिसकी सूचना या मांग नहीं की गई है।

ना बोर्ड ना डायवर्सन, आए दिन होती है दुर्घटना

2005 में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत साढ़े 4 लाख रुपए की लागत में उक्त पुल बनाई गई थी। 2016 में बारिश के दबाव से पुलिया का स्लैब बीचों बीच धसक गया था, जिसके बाद से पुल को अपने हाल में छोड़ दिया गया था। सरपंच पूर्वचन ध्रुवा ने बताया कि क्षतिग्रस्त स्थल पर ना तो को बोर्ड लगा है और ना ही डायवर्सन मार्ग बनाया गया है। पुल के बाजू में नीचे गहरी खाई से होकर आना-जाना पड़ता है। बारिश में कई कई दिनों तक मार्ग अवरूद्ध हो जाता है। ग्रामीणों ने बताया कि उक्त स्थल पर छोटी-मोटी दुर्घटना आम बात हो गई है। आज चरण सिंह की मौत के बाद से इलाकेभर में आक्रोश है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×