न्यूज़

--Advertisement--

महारानी बंद नहीं होगा, केवल मेकॉज का हॉस्पिटल डिमरापाल शिफ्ट होगा

महारानी हॉस्पिटल से मेडिकल काॅलेज को शिफ्ट करने और इसके बाद महारानी हॉस्पिटल की चाबी सिविल सर्जन को सौंपने वाला...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 02:15 AM IST
महारानी बंद नहीं होगा, केवल मेकॉज का हॉस्पिटल डिमरापाल शिफ्ट होगा
महारानी हॉस्पिटल से मेडिकल काॅलेज को शिफ्ट करने और इसके बाद महारानी हॉस्पिटल की चाबी सिविल सर्जन को सौंपने वाला एक आदेश अंतत: सरकार( स्वास्थ्य संचालनालय) ने जारी कर दिया है। एक दिन पहले आए इस आदेश में स्पष्ट लिखा गया है कि जल्द से जल्द महारानी हॉस्पिटल से मेडिकल कॉलेज के सेटअप का हॉस्पिटल अलग किया जाए और इसे डिमरापाल स्थित नए भवन में शिफ्ट किया जाए। उल्लेखनीय है कि मेकॉज में महारानी अस्पताल व मेडिकल कॉलेज अस्पताल दोनों एक साथ संचालित हो रहे थे और दोनों को ही डिमरापाल शिफ्ट करने की तैयारी थी। नए आदेश के तहत महारानी अस्पताल का सेटअप यथावत रहेगा। इसके अलावा शिफ्टिंग का काम पूरा होते ही महारानी हास्पिटल की चाबी सिविल सर्जन को सौंप दी जाए। इस आदेश के आने के बाद ऐसा माना जा रहा है कि फिलहाल महारानी हास्पिटल बंद नहीं होगा और यहां सौ बिस्तर वाला हॉस्पिटल चलाया जाएगा।

गौरतलब है कि बिना अादेश के ही हॉस्पिटल शिफ्टिंग किए जाने और मरीजों को हो रही परेशानियों के संबंध में भास्कर लगातार खबर प्रकाशित कर रहा था। भास्कर में खबरों के प्रकाशन के बाद प्रशासन ने इसे गंभीरता से लिया और फिर हॉस्पिटल को शिफ्ट करने और इसकी चाबी सिविल सर्जन को सौंपने संबंधी लिखित आदेश जारी किया गया है। इसके अलावा कांग्रेस और जोगी कांग्रेस कार्यकर्ता भी लगातार हॉस्पिटल के अस्तित्व को लेकर आंदोलन जारी रखे हुए हैं।

स्वास्थ्य संचालनालय ने महारानी की चाबी सिविल सर्जन को सौंपने कहा

21 मई से डिमरापाल में होगी इलाज की शुरुआत

इधर शिफ्टिंग संबंधी आदेश आने के बाद अब महारानी हॉस्पिटल से डिमरापाल सामान ले जाने का सिलसिला तेज कर दिया गया है। ऐसा माना जा रहा है कि आने वाले चार दिनों में ही यहां इलाज की शुरुआत कर दी जाएगी। प्रबंधन से जुड़े अफसरों का कहना है कि 21 मई से यहां इलाज की पूरी व्यवस्था कर ली जाएगी। इसके अलावा एक खबर यह भी है कि 22 मई को सीएम रमन सिंह का संभावित बस्तर दौरा है। इस दिन उनके हाथों से डिमरापाल में इलाज की शुरुआत करवाई जा सकती है। मेकॉज के हॉस्पिटल अधीक्षक अविनाश मेश्राम ने बताया कि शिफ्टिंग के लिए आदेश मिल गया है। हम 21 मई तक यहां सारी तैयारी पूरी कर लेंगे। इसके बाद इलाज की शुरुआत कर दी जाएगी।

मेकॉज का नया कैंपस

पानी-बिजली की होगी दिक्कत

इधर डिमरापाल स्थित नए हॉस्पिटल भवन में बिजली और पानी मरीजों के लिए परेशानी का सबब बन सकता है। दरअसल पूरे मेकॉज परिसर में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की व्यवस्था नहीं है। यहां दिन में कई बार बिजली गुल हो रही है। इसके अलावा पानी के लिए भी यहां पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। अभी जो बोर यहां है उससे हॉस्टल और प्रोफेसरों के घरों में ही पानी की आपूर्ति नहीं हो पा रही है।

X
महारानी बंद नहीं होगा, केवल मेकॉज का हॉस्पिटल डिमरापाल शिफ्ट होगा
Click to listen..