Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» संजीवनी-महतारी कर्मियों ने सीएम को लिखा पत्र, जगदलपुर से भेजे गए 500 पोस्टकार्ड

संजीवनी-महतारी कर्मियों ने सीएम को लिखा पत्र, जगदलपुर से भेजे गए 500 पोस्टकार्ड

7 सूत्रीय मांगों को लेकर चरणबद्ध आंदोलन पर उतर चुके संजीवनी-महतारी कर्मचारी कल्याण संघ के आपातकालीन स्वास्थ्य...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 14, 2018, 02:40 AM IST

संजीवनी-महतारी कर्मियों ने सीएम को लिखा पत्र, जगदलपुर से भेजे गए 500 पोस्टकार्ड
7 सूत्रीय मांगों को लेकर चरणबद्ध आंदोलन पर उतर चुके संजीवनी-महतारी कर्मचारी कल्याण संघ के आपातकालीन स्वास्थ्य कर्मियों ने शुक्रवार को हाता मैदान में एक दिवसीय धरना दिया। इस दौरान उन्होंने एकसाथ बैठकर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नाम 500 पोस्टकार्ड लिखे, जिसमें अपनी मांगों का जिक्र करते हुए इन्हें जल्द पूरा करने की मांग की।

एक दिवसीय धरना प्रदर्शन करने के बाद दो दिनों में कोई सकारात्मक पहल नहीं होने पर 16 जुलाई से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की चेतावनी उन्होंने दी है। इस बार संजीवनी-महतारी कर्मी रायपुर में होने वाले आंदोलन में शामिल होंगे, जबकि जगदलपुर में केवल प्रतीकात्मक रूप से कुछ ही कर्मचारी धरना देंगे।

दो दिनों का दिया आखिरी अल्टीमेटम: दो दिनों तक काली पट्‌टी लगाकर काम करने के बाद शुक्रवार को एक दिवसीय धरना प्रदर्शन में बैठे आपातकालीन स्वास्थ्य कर्मियों ने बताया कि मांगों को पूरा करने दो दिनों का आखिरी अल्टीमेटम दिया गया है, बावजूद मांगों के पूरा नहीं होने पर 16 जुलाई से स्वास्थ्य सेवाएं ठप करते हुए बेमियादी हड़ताल की जाएगी।

जगदलपुर। धरनास्थल में बैठकर सीएम को पत्र लिखते संजीवनी-महतारी कर्मी।

ईएमटी-पायलट की भर्ती प्रक्रिया फिर शुरू की गई

अप्रैल में हुए आंदोलन के दौरान जीवीके ईएमआरआई ने ईएमटी और पायलेटों की नई भर्ती शुरू कर दी थी। बाद में आंदोलन के स्थगित होने के बाद हड़ताली कर्मियों को वापस रखते हुए भर्ती किए गए नए ईएमटी-पायलेटों को फिर से वेटिंग पर रख दिया गया। इसके बाद इस आंदोलन के बाद अब फिर से ईएमटी व पायलेटों की भर्ती का क्रम शुरू हो गया है। फिर से नए कर्मियों की भर्ती की जाएगी और उन्हें हड़ताल की अवधि तक काम लेकर आंदोलन के खत्म होने के बाद वापस भेज दिया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×