Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में कार्यकर्ताओं को सीएम ने दी नसीहत

भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में कार्यकर्ताओं को सीएम ने दी नसीहत

भाजयुमो की 2 दिवसीय प्रदेश कार्यसमिति में पहले दिन गुरूवार को जहां नेताओं ने कार्यकर्ताओं मे जोश का संचार किया...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 14, 2018, 02:40 AM IST

भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में कार्यकर्ताओं को सीएम ने दी नसीहत
भाजयुमो की 2 दिवसीय प्रदेश कार्यसमिति में पहले दिन गुरूवार को जहां नेताओं ने कार्यकर्ताओं मे जोश का संचार किया वहीं दूसरे दिन शुक्रवार को मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह ने कार्यकर्ताओं को सीधे सीधे नसीहत देते कहा उतावलेपन से कोई काम नहीं किया जा सकता। नारों पर नहीं काम पर विश्वास करें युवा। यह बात पूरी तरह से ध्यान में रखते हुए काम करने की जरूरत है कि भाजपा और कांग्रेस के बीच वोटों का कोई ज्यादा अंतर नहीं है। चुनाव के मैदान पर धैर्य के साथ और अपनी प्रतिष्ठा को ध्यान में रखते हुए काम करे। बड़े संकल्प और बड़ी सोच के साथ ही लंबी छलांग लगाई जाती है। पूरी ताकत और एकजुटता के साथ चुनाव मैदान पर उतरने होगा। छग को संवारने की जिम्मेदारी अब युवाओं के कंधो पर है। विकास यात्रा के दौरान युवाओं ने काफी अच्छे ढंग से काम कर के खुद को साबित किया है।

महिलाएं अब स्मार्ट फोन से सीधे सीएम से बात कर सकती हैं: कार्यसमिति में मौजूद स्थानीय के साथ साथ दूसरे जिलों से आए नेताओं को पहले सीएम ने नसीहत दी फिर अपनी सरकर की उपलब्धियां गिनाई। सारे सूबे में सडक,शिक्षा,स्वास्थ्य समेत अन्य विकास कामों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि क्नेक्टिविटी के मामले में भी काफी तरक्की हुई है। जल्द ही महिलाओं को स्मार्ट फोन दिए जाने हैं। कहीं किसी को कोई दिक्कत होती है या कोई समस्या हो तो वे मुख्यमंत्री को सीधे फोन पर बात कर सकती हैं । कार्यक्रम में राम प्रताप सिंह, अभिजात मिश्रा, मंत्री केदार कश्यप, दिनेश कश्यप, संतोष बाफना, श्रीनिवास राव मद्दी, विजय शर्मा, रंजीत दास, विक्रांत सिंह, कमलचंद भंजदेव, डॉ. सुभाउराम कश्यप, किरण देव, बैदूराम कश्यप, संजय पांडे, रजनीश पानीग्राही, मनीष पारख समेत अन्य मौजूद थे।

भाजपा-कांग्रेस में वोटों का अंतर ज्यादा नहीं है कार्यकर्ता नारे नहीं काम पर यकीन करें: रमन

भाजयुमो की प्रदेश कार्यसमिति में महिला कार्यकर्ताओं की भी काफी संख्या रही।

बस्तर संभाग में मजबूत विपक्ष के रूप में खड़ी कांग्रेस से भाजपाइयों का निपटना इस बार भी आसान नहीं होगा

दो दिनों तक संभाग मुख्यालय में भाजयुमो के बड़े आयोजन के माध्यम से भाजपा नेताओं ने भले ही कांग्रेस पर जम कर प्रहार कर के अपने कार्यकर्ताओं को रीचार्ज किया है। वहीं दूसरी ओर मैदानी मुकाबले में कांग्रेस को कम आंक कर नहीं चला जा सकता। इसका सबसे बड़ा कारण है कि 2013 के चुनाव में बस्तर की कुल 12में से 8 सीटे कांग्रेस ने जीत कर जो पोजीशन बनाई थी उसे 5 सालों में बरकरार रखा। इतना ही नहीं इस दौरान लोगों से सतत संबंध बना कर शिक्षा,हेल्थ,महंगाई समेत अन्य तमाम मुद्दे एक जुट होकर उठाए। बस्तर में समय समय पर लोगों को कांग्रेस एक मजबूत विपक्ष के रूप में खड़ा है इसका एहसास भी कराया। इस तरह के हालत में भाजपा के लिए कांग्रेस का सामना करना आसान नहीं है।इन सभी परिस्थितियों को भाजपा के राज्य स्तरीय नेता भी समझ चुके हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×