--Advertisement--

आंबा सहायिका का शव कब्र से निकाला गया

भास्कर न्यूज | कोंडागांव/ जगदलपुर मर्दापाल के कोहकेड़ी में जिस आंबा सहायिका सरिता को नक्सलियों ने मौत की सजा देकर...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:45 AM IST
भास्कर न्यूज | कोंडागांव/ जगदलपुर

मर्दापाल के कोहकेड़ी में जिस आंबा सहायिका सरिता को नक्सलियों ने मौत की सजा देकर दफन कर दिया था उसके शव को सात दिनों बाद बुधवार को कब्र से बाहर निकाला गया। शव को कब्र से बाहर निकालने के लिए यहां तहसीलदार और डाॅक्टरों की टीम भारी पुलिस बल के साथ पहुंची थी। पहले पूरे इलाके को छावनी में तब्दील किया गया इसके बाद शव को कब्र से बाहर निकाला गया। सहायिका के शव को कब्र से निकालने के बाद सीधे जगदलपुर मेडिकल कॉलेज के लिए रवाना किया गया। यहां शव शाम 6 बजे मेकॉज पहुंच गया है और बुधवार को डाॅक्टर शव का पीएम करेंगेे।

इसके बाद पीएम रिपोर्ट के आधार पर सहायिका की मौत से जुड़े कई अन्य खुलासे होंगे। इधर सहायिका के शव को कब्र से निकालने के लिए जब प्रशासनिक और पुलिस अफसरों की टीम गांव पहुंची तो मृतका के परिजनों ने उसकी मौत की कहानी ही पलट दी। परिजनों का कहना है कि उनकी बेटी की हत्या नक्सलियों ने नहीं की है बल्कि उसने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। पुलिस अफसरों का कहना है कि मृतका के परिजन ऐसा बयान नक्सलियों के डर और दबाव के चलते दे रहे हैं।

फॉरेंसिक डिपार्टमेंट करेगा पीएम : इधर आंबा के शव का पीएम मेकाज के फॉरेंसिक डिपार्टमेंट के विशेषज्ञ डाॅक्टर करेंगे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से यहां पता चलेगा कि उसकी मौत कितने समय पहले हुई है और इसके क्या कारण हैं। चूंकि यह मामला अब हाईप्रोफाइल हो गया है ऐसे में पीएम के बाद डाॅक्टर बिसरा प्रिजर्व ही कर सकते हैं।

मर्दापाल में सहायिका को नक्सलियों ने मारकर दफना दिया था

बच्ची ने बताया कि जनअदालत में फांसी की सजा दी, चुनरी से नहीं मरी तो तार फंसाकर घोंट दिया गला

इधर परिजनों के बयान के उलट परिवार की ही एक छोटी सी बच्ची ने पुलिस अफसरों और मीडिया के सामने जानकारी दी कि सहायिका का मोबाइल चेक करने के बाद 6 नक्सलियों ने रात 12 बजे सहायिका को घर से बाहर निकाला और गांव में जनअदालत लगाई गई। इसमें गांव के सभी लोग शामिल हुए। उस पर आरोप तय होने के बाद उसकी चुनरी से उसका गला घोंटा गया जब इससे काम नहीं बना तो फिर वायर से गले को दबाया गया। इसके बाद सुबह चार बजे उसके शव को उसके घर पर लाकर लटका दिया गया और धमकी दी गई कि इसकी जानकारी किसी को न दी जाए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..