न्यूज़

--Advertisement--

बैसाखी पर्व मनाने जुटे सिख समाज के लोग

गुरुद्वारा परिसर में बैसाखी के अवसर पर पहली बार रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें काफी...

Danik Bhaskar

Apr 17, 2018, 03:00 AM IST
गुरुद्वारा परिसर में बैसाखी के अवसर पर पहली बार रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें काफी तादाद में महिलाओं व बच्चों ने हिस्सा लिया। इस बारे में गुरुसिंह सभा के दिलीप सिंह गांधी ने बताया कि बैसाखी से नव वर्ष शुरु हो जाता है।

इसी दिन गुरु गोविंद सिंह ने पंज प्यारे तैयार किए थे और इसी दिन उन्होंने पंज प्यारों को अमृत चखाया था। इसके बाद खुद भी अमृत चखा था। परंपरागत तौर पर बैसाखी प्रति वर्ष मनाई जाती है। इस वर्ष उसमें सांस्कृतिक कार्यक्रम जोड़ कर उसे और भव्य व रोचक बनाया गया। बैसाखी के अवसर पर आयोजित अखंड पाठ की समाप्ति 14 अप्रैल को हुई। ज्ञानी मनिंदर सिंह व जत्थे ने कीर्तन किया। रात में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें भांगड़ा, डांस, नाटक आदि की प्रस्तुति की गई।

खरियार रोड. गुरुद्वारा परिसर में बैसाखी के उपलक्ष्य में आयोिजत कार्यक्रम में शािमल बच्चे।

Click to listen..