Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» PM Narendra Modi Come Raipur, Chhattisgarh

तीन साल में पांचवीं बार और दो महीने में दूसरी बार छत्तीसगढ़ आ रहे नरेन्द्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे को लेकर कई केंद्रीय मंत्री व वरिष्ठ अफसर भी दिल्ली से पहुंच रहे हैं।

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 14, 2018, 08:10 AM IST

तीन साल में पांचवीं बार और दो महीने में  दूसरी बार छत्तीसगढ़ आ रहे नरेन्द्र मोदी
बिलासपुर (छत्तीसगढ़)। छोटा राज्य होने के बावजूद छत्तीसगढ़ ने राष्ट्रीय स्तर की राजनीति में अपनी खासी पकड़ बनाई है। विपक्षी आरोपों के बावजूद बीते 17-18 सालों में राज्य ने तेजी से विकास भी किया है। छत्तीसगढ़ पर बीते चार सालों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी नजदीकी नजर रखे हुए हैं। यही वजह है कि तीन वर्ष में कल उनका पांचवां छत्तीसगढ़ प्रवास होगा। दो माह के भीतर छत्तीसगढ़ में उनकी यह दूसरी यात्रा होगी। इससे पहले संयुक्त मध्यप्रदेश के समय या छत्तीसगढ़ बनने के बाद देश के किसी प्रधानमंत्री ने इतनी बार प्रदेश का दौरा नहीं किया।

प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी पहली बार 9 मई 2015 को छत्तीसगढ़ आए थे। तब उन्होंने प्रदेश के सबसे पिछड़े बस्तर संभाग के सामाजिक आर्थिक विकास में तेजी लाने के लिए 24 हजार करोड़ रुपए की परियोजनाओं के लिए समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए थे। इन परियोजनाओं में रावघाट-जगदलपुर 140 किलोमीटर रेलमार्ग निर्माण (लागत दो हजार करोड़) तीन मिलियन टन वार्षिक उत्पादन क्षमता के अल्ट्रा-मेगा इस्पात संयंत्र निर्माण (लागत 18 हजार करोड़) बचेली और किरंदुल में दस मिलियन टन वार्षिक क्षमता का लौह अयस्क प्रसंस्करण संयंत्र (लागत 1675 करोड़), नगरनार में दो मिलियन टन वार्षिक क्षमता का पैलेट प्लांट (लागत 800 करोड़) तथा किरंदुल/बचेली से नगरनार तक स्लरी पाइप लाइन और अन्य कार्यों के लिए 1525 करोड़ रुपए की परियोजनाएं शामिल हैं । उसके बाद 21 फरवरी 2016 को, राज्योत्सव के अवसर पर 1 नवम्बर 2016 को और दो माह पहले अम्बेडकर जयंती के अवसर पर 14 अप्रैल 2018 को वे प्रदेश के दौरे पर आ चुके हैं।


कौन प्रधानमंत्री कब-कब आए
- जवाहरलाल नेहरू - 1961 और 1963 में, भिलाई स्टील प्लांट बनने व उद्घाटन के मौके पर भिलाई में। रायपुर में इंजीनियरिंग कालेज के उद्घाटन के मौके पर।
- इंदिरा गांधी - जगदलपुर - बस्तर के दौरे पर 80 के दशक में आईं। 1984 में ओडिशा जाते वक्त एयरपोर्ट पर रुकीं। 5 मई 1972 को गंगरेल डैम का शिलान्यास किया।
- राजीव गांधी - 1985-86 में कुल्हाड़ीघाट और दुगली का दौरा किया
- चंद्रशेखर - 1990-91 में कार्यवाहक प्रधानमंत्री के रूप में आए थे। उनकी पार्टी के नेता फज्जलुर्र रहमान के नामांकन के मौके पर भी थे।
- मनमोहन सिंह - 2004- 05 में कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में
- अटल बिहारी बाजपेयी - राज्योत्सव का उद्घाटन करने जोगी सरकार के वक्त आए। रायपुर रेल डिवीजन और बिलासपुर जोन के उद्घाटन पर 2002-03 में और राजधानी में अटल कैबिनेट की बैठक बेबीलोन में।
- पीवी नरसिम्हाराव - 1991-96 के बीच।
- एचडी देवगौड़ा - 1996-97, एयरपोर्ट पर अव्यवस्था में कुछ लोग सस्पेंड भी हुए थे।
-ये नहीं आ सके - लाल बहादुर शास्त्री, गुलजारी लाल नंदा, मोरारजी देसाई, चौधरी चरण सिंह, वीपी सिंह, आईके गुजराल।

केंद्रीय मंत्री बिरेंद्र सिंह पहुंचे सिन्हा व पुरी आज पहुंचेंगे
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे को लेकर कई केंद्रीय मंत्री व वरिष्ठ अफसर भी दिल्ली से पहुंच रहे हैं। वे सभी मोदी के साथ कार्यक्रमों में शरीक होंगे। केंद्रीय मंत्री बिरेंदर सिंह बुधवार रात को नियमित राजधानी पहुंच गए। जबकि केंद्रीय राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी गुरुवार सुबह नियमित विमान से पहुंच रहे हैं। केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा स्पेशल प्लेन से प्रधानमंत्री के साथ आ रहे हैं।

भारत सरकार की संयुक्त सचिव उषा पाढ़ी मंगलवार से यहीं हैं। केंद्रीय सचिव डॉ. अरूणा शर्मा बुधवार को रायपुर पहुंचीं। जबकि केंद्रीय सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा गुरुवार सुबह नियमित उड़ान से राजधानी पहुंचेंगे।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×