Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» ब्लड बैंक में स्टॉक की जानकारी देनी है ऑनलाइन, 52 में से 22 कर रहे अनदेखी

ब्लड बैंक में स्टॉक की जानकारी देनी है ऑनलाइन, 52 में से 22 कर रहे अनदेखी

प्रदेश में संचालित सभी निजी और सरकारी ब्लड बैंक में रोजाना कितना स्टॉक है, कौन से ग्रुप का ब्लड उपलब्ध है, इसकी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 14, 2018, 03:15 AM IST

प्रदेश में संचालित सभी निजी और सरकारी ब्लड बैंक में रोजाना कितना स्टॉक है, कौन से ग्रुप का ब्लड उपलब्ध है, इसकी ऑनलाइन जानकारी देना है। लेकिन प्रदेश के कई निजी ब्लड बैंक अब तक ऑनलाइन डाटा नहीं उपलब्ध करा रहे हैं। इसे लेकर उनकी तरफ से लापरवाही बरती जा रही है। इसके बाद भी सख्ती नहीं बरती जा रही है। सभी ब्लड बैंक ऑनलाइन नहीं होने के कारण स्टॉक का पता नहीं चल पा रहा है। इससे मरीज ब्लड के लिए भटकते हैं।

ब्लड बैंकों में किस ग्रुप का कितना स्टॉक है, इसे ऑनलाइन सिस्टम के जरिये एक क्लिक में देखा जा सकता है। प्रदेश में अंबेडकर अस्पताल समेत बड़े सरकारी हॉस्पिटल के ब्लड बैंक ऑनलाइन हो चुके हैं। राजधानी में 10 के अासपास निजी ब्लड बैंक हैं, जिनमें पांच ऑनलाइन है। बाकी को स्वास्थ्य विभाग पत्र लिखकर थक चुका है, लेकिन ऐसे निजी ब्लड की तरफ से इसे लेकर गंभीरता नहीं दिखाई जा रही है। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इसे कराने की कोशिश की जा रही है। अंबेडकर अस्पताल के ब्लड बैंक में स्टॉक ऑनलाइन देखा जा रहा है। यहां इसे अपडेट करने के लिए एक कंप्यूटर ऑपरेटर की ड्यूटी अलग से लगाई गई है।

निजी वाले बरत रहे ज्यादा लापरवाही

निजी ब्लड बैंकों में निगेटिव ग्रुप का ब्लड ज्यादा कीमत पर बेचने की शिकायत मिलती है। दरअसल अंबेडकर समेत निजी बैंकों में निगेटिव ग्रुप के ब्लड की कमी हमेशा रहती है। अधिकतर निजी ब्लड बैंकों में प्रोसेसिंग फीस के साथ मरीजों से अतिरिक्त पैसा भी लिया जाता है।

अंबेडकर अस्पताल में प्रतिदिन ब्लड की खपत

होल ब्लड 60- 70 यूनिट

प्लेटलेट 30- 35 यूनिट

प्लाज्मा 8- 10 यूनिट

2017 में कुल खपत - 22595 यूनिट

संचालकों को पत्र लिखा गया है, कार्रवाई होगी

सरकारी समेत निजी ब्लड बैंकों को ऑनलाइन करना है, ताकि जरूरतमंद स्टॉक देखकर ब्लड आसानी से ले पाएं। वर्तमान में 22 ब्लड बैंक ऑनलाइन अब नहीं हुए हैं। इसके लिए संचालकों को पत्र लिखा गया है। नहीं करने पर आगे कार्रवाई की जाएगी। डॉ. एसके बिंझवार, स्टेट नोडल अधिकारी ब्लड बैंक

हर साल चार लाख यूनिट की जरूरत, डोनेट आधा ही

सरकारी ब्लड बैंक-23

निजी ब्लड बैंक- 29

चार लाख यूनिट ब्लड की जरूरत हर साल

दो लाख यूनिट ब्लड डोनेट होता है।

1000 यूनिट की जरूरत रोजाना सरकारी- निजी अस्पतालों में।

सरकारी में प्लेटलेट 300 और होल ब्लड 1050 रुपए

होल ब्लड 1050 रुपए

प्लेटलेट 300 रुपए

प्लाज्मा 300 रुपए

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×