Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» छत्तीसगढ़ की पहली घरेलू विमान सेवा आज शुरू करेंगे मोदी रायपुर से जगदलपुर का बेसिक किराया 1720 रुपए होगा

छत्तीसगढ़ की पहली घरेलू विमान सेवा आज शुरू करेंगे मोदी रायपुर से जगदलपुर का बेसिक किराया 1720 रुपए होगा

रायपुर/भिलाई | दो महीने में दूसरी बार छत्तीसगढ़ आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को प्रदेश की पहली घरेलू...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 14, 2018, 03:20 AM IST

छत्तीसगढ़ की पहली घरेलू विमान सेवा आज शुरू करेंगे मोदी रायपुर से जगदलपुर का बेसिक किराया 1720 रुपए होगा
रायपुर/भिलाई | दो महीने में दूसरी बार छत्तीसगढ़ आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को प्रदेश की पहली घरेलू विमान सेवा शुरू करेंगे। 15 जून से रायपुर से जगदलपुर के बीच फ्लाइट शुरू हो जाएगी। 8 सीटर विमान में प्रति यात्री बेसिक किराया 1720 रुपए रखा गया है।

मोदी कई अन्य योजनाएं भी शुरू करेंगे। सेल की सबसे बड़ी इकाई और विश्व की सबसे लंबी रेलपांत बनाने वाले बीएसपी का एक्सपांशन प्रोजेक्ट शुरू करंेगे। यहां 130 मीटर लंबी रेलपांत का उत्पादन हो रहा है। अभी तक 121 मीटर लंबी रेलपांत का उत्पादन आस्ट्रिया में हो रहा था। पीएम नया रायपुर में सुबह 10.55 बजे देश के पहले एकीकृत कमांड का भी लोकार्पण करेंगे। बीएसपी के एक्सपांशन प्रोजेक्ट के पूरा होने के बाद बीएसपी की उत्पादन क्षमता 4.5 एमटी से बढ़कर 7 एमटी हो गई है। जिसके चलते भारत इस्पात उत्पादन के क्षेत्र शेष|पेज 6



में जापान को पछाड़ कर तीसरे स्थान पर पहुंच गया है। 17 हजार 200 करोड़ की लागत से बीएसपी में एक्सपांशन प्रोजेक्ट की शुरुआत दिसंबर 2009 में एसएमएस-3 और कोक ओवन बैटरी नंबर-11 की नींव रखने के साथ हुई। उसके बाद यूआरएम, ब्लास्ट फर्नेस 8, पावर ब्लोइंग स्टेशन, बैटरी 11 अन्य नई मिलों का निर्माण व कुछ पुरानी मिलों के अपग्रेडेशन का काम शुरू हुआ। बीते दो साल में एक-एक कर सभी प्लांट और मिलों का निर्माण पूरा होने के बाद उत्पादन शुरू हो गया है। दो दिन पूर्व प्रोजेक्ट अंतर्गत निर्मित बार रॉड मिल (बीआरएम) और रिफ्रैक्टरी मटेरियल प्लांट (आरएमपी-3) में भी उत्पादन का सफल ट्रायल हुआ। अब पीएम नरेंद्र मोदी बीएसपी के आधुनिकीकरण और विस्तारीकरण परियोजना (एमईपी) का लोकार्पण गुरूवार को करेंगे।

-

यूआरएम विश्व की सबसे बड़ी यूनिट

बीएसपी में एक्सपांशन प्रोजेक्ट के तहत करीब 2100 करोड़ की लागत से निर्मित यूनिवर्सल रेल मिल (यूआरएम) में विश्व की सबसे लंबी रेलपांत 130 मीटर का उत्पादन हो रहा है। पुरानी रेल मिल से जहां 65 मीटर लंबी रेलपांत का उत्पादन हो रहा है। वहीं यूआरएम से 130 मीटर लंबी रेलपांत का उत्पादन किया जा रहा है। यूआरएम के पूर्व विश्व की सबसे लंबी 121 मीटर रेलपांत का उत्पादन आस्ट्रिया में हो रहा था। इतना ही नहीं बीएसपी प्रबंधन ने दावा किया कि विश्व में एक ही लोकेशन सबसे बड़ी रेल मिल बीएसपी की है।

रेलवे की डिमांड पूरा करने में बीएसपी सक्षम

रेलवे तेजी से एक्सपांशन के साथ आधुनिकीकरण करने में लगा हुआ। इसके चलते रेलपांत की डिमांड भी बढ़ गई है। बीएसपी में पुरानी रेल मिल से 7 लाख टन रेलपांत का उत्पादन हो रहा है। जबकि रेलवे की डिमांड करीब 12 लाख टन रेलपांत की है। यूआरएम में उत्पादन शुरू होने के बाद बीएसपी हर साल करीब 19 लाख टन रेलपांत का उत्पादन करने की स्थिति में पहुंच गया है। जिससे वह रेलवे की डिमांड को पूरा करने में सक्षम हो गया है। विदित हो कि बीएसपी को रेलपांत का एक्सक्लूसिव ऑर्डर बीएसपी के पास ही है।

एक नजर ओवरऑल प्रोजेक्ट पर

- 17200 करोड़ की लागत से एक्सपांशन की शुरुआत 2009 में हुई।

- 4.5 से बढ़कर 7 मिलियन टन हो जाएगी उत्पादन क्षमता

- 2100 करोड़ रुपए खर्च किए गए विस्तार योजना पर

--

बीएसपी के उत्पादन की स्थिति

उत्पाद वर्तमान प्रोजेक्ट पूरा होने पर

हॉट मेटल 4.080 7.50

क्रूड स्टील 3.925 7.00

फिनिश्ड स्टील 2.620 5.85

सेमिज 0.533 0.72

सेलेबल स्टील 3.155 6.56

000

आईआईटी भिलाई की रखेंगे नींव, खर्च होंगे 1 हजार करोड़ रुपए

आईआईटी भिलाई की नींव गुरुवार को सभास्थल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रखेंगे। कुटेलाभाठा और सिरसाखुर्द के 445 एकड़ एरिया में इसका निर्माण होगा। सितंबर 2018 से काम शुरू हो जाएगा। उससे पहले आईआईटी कैंपस में बाउंड्रीवाल का निर्माण होगा। इसके लिए भी काम शुरू हो जाएगा। आईआईटी भिलाई के डायरेक्टर प्रो. रजत मूना ने बताया कि, गुरुवार को पीएम मोदी इसकी नींव रखेंगे। पीएम मोदी को एक प्रेजेंटेशन दिया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×