• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Raipur
  • News
  • सेवा निकेतन से 60 दिव्यांगों ने ली कौशल विकास ट्रेनिंग प्रमाणपत्र के साथ सभी को एक एक िसलाई मशीन भी दी
--Advertisement--

सेवा निकेतन से 60 दिव्यांगों ने ली कौशल विकास ट्रेनिंग प्रमाणपत्र के साथ सभी को एक-एक िसलाई मशीन भी दी

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:25 AM IST

News - सेवा निकेतन का 36वां दीक्षांत समारोह पिछले दिनों मनाया गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के तहत...

सेवा निकेतन से 60 दिव्यांगों ने ली कौशल विकास ट्रेनिंग प्रमाणपत्र के साथ सभी को एक-एक िसलाई मशीन भी दी
सेवा निकेतन का 36वां दीक्षांत समारोह पिछले दिनों मनाया गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के तहत प्रशिक्षण पूरा करने वाले 60 दिव्यांगों को प्रमाण पत्र बांटा गया। साथ ही उन्हें रोजगार के लिए एक-एक सिलाई मशीन भी दी गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि समाज कल्याण विभाग के विशेष सचिव आर प्रसन्ना थे। विभाग के संचालक डॉ. संजय कुमार अलांग विशेष अतिथि के तौर पर मौजूद रहे।

कार्यक्रम में विशेष सचिव आर प्रसन्ना ने यहां मौजूद लोगों को सरकार द्वारा दिव्यांगों के लिए चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी। साथ ही सेवा निकेतन के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि संस्था को शासन से हमेशा सहयोग मिलता रहेगा। इस तरह के प्रयासों से दिव्यांगों को भी विकास की मुख्य धारा से जोड़कर उन्हें रोजगार उपलब्ध करवाया जा सकता है। समाज में ऐसी पहल होती रहनी चाहिए।विशेष अतिथि डॉ. संजय कुमार ने कहा कि कौशल विकास प्रशिक्षण के जरिए ही दिव्यांगों का सर्वांगीण विकास किया जा सकता है। इससे उन्हें रोजगार मिलेगा। इस दौरान उन्होंने टीम इंडिया से बांग्लादेश खेलने जा रहे सेवा निकेतन के 2 दिव्यांगों की भी सराहना की और कहा कि वे केवल छत्तीसगढ़ नहीं बल्कि पूरे देश का नाम रोशन कर रहे हैं। वे सबके लिए आदर्श हैं। इसके बाद संस्था के छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में सरपंच रामरतन ढीढी, संस्था के बड़े फादर ए कैन्डो, संस्था के संचालक फादर सिरियक जोसेफ, बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष सुनील शर्मा, अचिन बैनर्जी, पूर्व सरपंच लोकनाथ साहू आदि विशेष रूप से मौजूद रहे।

X
सेवा निकेतन से 60 दिव्यांगों ने ली कौशल विकास ट्रेनिंग प्रमाणपत्र के साथ सभी को एक-एक िसलाई मशीन भी दी
Astrology

Recommended

Click to listen..