• Hindi News
  • Chhattisgarh News
  • Raipur News
  • News
  • डीके में 18 सहायक प्राध्यापकों की भर्ती इस महीने शुरू होगा मरीजों का इलाज
--Advertisement--

डीके में 18 सहायक प्राध्यापकों की भर्ती इस महीने शुरू होगा मरीजों का इलाज

दाऊ कल्याण सिंह सुपर स्पेश्यालिटी अस्पताल में इस माह के अंत तक मरीजों का इलाज शुरू होने की संभावना है। इसके लिए 18...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 03:50 AM IST
दाऊ कल्याण सिंह सुपर स्पेश्यालिटी अस्पताल में इस माह के अंत तक मरीजों का इलाज शुरू होने की संभावना है। इसके लिए 18 सहायक प्राध्यापकों की भर्ती की जाएगी। ये डॉक्टर सुपर स्पेश्यालिटी के बजाय स्पेशलिस्ट डॉक्टर हैं। डीके में इलाज शुरू होने के बाद मरीजों को कम खर्च में बढ़िया इलाज मिलेगा।

डीकेएस में रिनोवेशन का काम अंतिम चरण में है। सुपर स्पेश्यालिटी डॉक्टर पहले से अंबेडकर अस्पताल में काम कर रहे हैं। अब स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की भर्ती वॉक इन इंटरव्यू के माध्यम से 19 मई को किया जाएगा। इन डॉक्टरों में क्रिटिकल केयर मेडिसिन, इमरजेंसी मेडिसिन, एनीस्थिसिया, ऑर्थोपीडिक्स, जनरल सर्जरी, बैलेस्टिक सर्जरी विभाग में मेडिसिन, पैथालॉजी व नेफ्रोलॉजी विभाग में मेडिसिन शामिल हैं। इनके अलावा आईसीयू कंसल्टेंट क्रिटिकल केयर मेडिसिन व इमरजेंसी मेडिसिन में डॉक्टरों की भर्ती की जाएगी। बैलेस्टिक सर्जरी विभाग में सर्जरी, ऑर्थोपीडिक्स, मेडिसिन, पैथालॉजी, रीनल साइंस, एनीस्थिसिया व यूरोलॉजिस्ट की भर्ती नेफ्रोलॉजी विभाग में की जाएगी। डाक्टरों ने बताया कि वॉक इन इंटरव्यू अंबेडकर अस्पताल में होगा। प्रथम व द्वितीय श्रेणी के खाली पदाें में रजिस्ट्रार, उप अधीक्षक, एमएससी डायलिसिस टेक्नीशियन, प्रशासकीय अधिकारी, मेडिकल रिकार्ड आफिसर, प्रोग्रामर, फिजियोथैरेपिस्ट, ऑर्थोटिस्ट, नर्सिंग अधीक्षक की भर्ती होगी। इसके लिए 27 मई तक ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है।

24 मार्च को नहीं हो सका लोकार्पण

डीके अस्पताल का लोकार्पण 24 मार्च को प्रस्तावित था, लेकिन रिनोवेशन का काम पूरा नहीं होने के कारण यह टल गया था। 450 बेड के इस अस्पताल में 12 मॉड्यूलर ओटी होंगे। आईसीयू, पीडियाट्रिक सर्जरी, केजुअल्टी, बर्न वार्ड, डायलिसिस कक्ष, ट्रामा सेंटर, एमआरआई कक्ष, पेइंग वार्ड व ओटी कांप्लेक्स का अंतिम चरण में है। अस्पताल अधीक्षक डॉ. पुनीत गुप्ता ने बताया कि रिनोवेशन का काम लगभग पूरा हो गया है। अब वार्डों में बेड लगाए जा रहे हैं। ओटी में मशीनों की स्थापना का काम भी जल्द शुरू किया जाएगा।



अस्पताल में आठ बेड की ऐसी यूनिट रहेगी जिसमें किडनी के मरीजों का डायलिसिस 24 घंटे किया जाएगा। इसके लिए अत्याधुनिक मशीन लगाई जा रही है।

ये विभाग रहेंगे

- किडनी

- न्यूरो सर्जरी

- पीडियाट्रिक सर्जरी

- प्लास्टिक सर्जरी

- कार्डियोलॉजी

......

अस्पताल एक नजर में

- कुल बेड 450

- 60 बेड की डायलिसिस यूनिट

- 127 बेड का आईसीयू

- 50 बेड का इमरजेंसी मेडिसिन

- 20 बेड का बर्न यूनिट

- आठ बेड का 24 घंटे डायलिसिस यूनिट

- 10 बेड का बैलेस्टिक वार्ड

न्यूमेरिक सिस्टम से होगी सुविधा

अस्पताल में न्यूमेरिक सिस्टम की स्थापना की जा रही है। इसमें ब्लड के सैंपल से लेकर रिपोर्ट जरूरत के हिसाब से वहां पहुंच जाएंगे, जहां जरूरत हो। मरीजों की फाइल भी सुरक्षित रहेगी। इससे फाइल गुमने की संभावना कम हो जाएगी। मरीजों के लिए अत्याधुनिक एंबुलेंस रहेगी, जिसमें ईसीजी की सुविधा रहेगी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..