Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» जैकेट व पेज 1 के शेष

जैकेट व पेज 1 के शेष

70 साल में पहली बार न्यायपालिका, सांसद ... यही हाल पूरे देश का है। उन्होंने भाजपा पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि आज जो...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 03:50 AM IST

70 साल में पहली बार न्यायपालिका, सांसद ...

यही हाल पूरे देश का है। उन्होंने भाजपा पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि आज जो डर न्यायपालिका में है, सांसद में है, विधायक में है वही डर प्रेस में भी है।

सरकार बनी तो दस दिन में कर्ज माफ करने का वादा : राहुल गांधी ने गुरुवार को सीतापुर में किसान और आदिवासी सम्मेलन में भी मोदी पर जमकर हमला बोला और उनपर देश को धोखा देने का आरोप लगाया। दो करोड़ बेरोजगारों को न रोजगार मिला और न ही लोगों के खाते में पंद्रह लाख रुपए मिले। उन्होंने सभा में बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि 2019 में जिस दिन कांग्रेस की सरकार बनेगी आप लोग दिन गिनते रहिएगा, दस दिन के भीतर किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। उन्होंने किसानों का कर्ज माफ नहीं किए जाने के लिए कहा कि भाजपा कहती है कि उसके एजेंडे में नहीं है। कर्ज माफ करने से किसानों की आदत बिगड़ जाएगी।

राहुल के रोड शो के जरिए कांग्रेस का शक्ति प्रदर्शन : दुर्ग | राहुल गांधी 18 मई को दोपहर करीब 2.15 बजे दुर्ग पहुंचेंगे और रविशंकर स्टेडियम में आयोजित संवाद कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। यहां दुर्ग संभाग के 20 विधानसभा के 10 हजार से अधिक बूथ मेंबर्स से मिलेंगे। यहां से वे 4.45 बजे निकलेंगे और भिलाई पॉवर हाउस में डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद रैली के साथ शाम करीब 7.30 बजे रायपुर माना एयरपोर्ट पहुंचेंगे। रात 08.05 बजे दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

बिहार, गोवा, मणिपुर और मेघालय में विपक्ष ने...

कांग्रेस+जेडीएस इसके खिलाफ रात को ही सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए थे। रात सवा 2 से सुबह साढ़े 5 बजे तक सुनवाई के बाद कोर्ट ने राज्यपाल के आदेश पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था। हालांकि, यह स्पष्ट कर दिया था कि उनका मुख्यमंत्री बने रहना कोर्ट के फैसले पर निर्भर करेगा।

शपथ ग्रहण के विरोध में धरने पर बैठे कांग्रेस और जेडीएस नेता: येद्दियुरप्पा के शपथ ग्रहण के विरोध में कांग्रेस+जेडीएस ने विधानसौध परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरना दिया। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, अशोक गहलोत, सिद्दारामैया, मल्लिकार्जुन खड़गे, जेडीएस के संरक्षक व पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा और पार्टी अध्यक्ष एचडी कुमारस्वामी धरने पर बैठे। इगलटन रिजॉर्ट में रखे गए विधायक भी कुछ देर के लिए धरनास्थल पर लाए गए। जेडीएस के विधायक बेंगलुरू के एक होटल में रुके हैं।

सीएम बनते ही बदले चार आईपीएस अधिकारी, दाे इंटेलिजेंस में भेजे: येद्दियुरप्पा ने चार आईपीएस अधिकारी बदल दिए। इंटेलिजेंस में दो नई नियुक्तियां की हैं। एडीजीपी (रेलवे) अमर कुमार पांडेय को एडीजीपी (इंटेलिजेंस) बनाया गया है। वहीं, डीआईजी (केएसआरपी) को डीआईजी (इंटेलिजेंस) नियुक्त किया है।

येद्दियुरप्पा तीसरी बार बने हैं सीएम, अभी तक कोई कार्यकाल पूरा नहीं कर पाए: मुख्यमंत्री के तौर पर येद्दियुरप्पा का यह तीसरा कार्यकाल है। अब तक एक बार भी वह कार्यकाल पूरा नहीं कर सके हैं। पिछले दोनों कार्यकाल में वह कुल तीन साल 71 दिन ही मुख्यमंत्री रहे।

विधानसभा में दलों की स्थिति : भाजपा 104, कांग्रेस 78, जेडीएस+ 38, अन्य 02

शहर के एक लाख मकान और प्लॉट, बिक नहीं ...

रजिस्ट्री अफसरों का कहना है कि नियमों के सख्ती से पालन का आदेश है, इसलिए एक भी दस्तावेज कम हुआ तो रजिस्ट्री नहीं कर सकते। आईजी पंजीयन कार्तिकेय गोयल ने कहा कि रजिस्ट्री पर रोक नहीं है, लेकिन दस्तावेज ही पूरे नहीं होंगे तो यह कैसे कर सकते हैं? जानकारों के मुताबिक पिछले 15 दिन से ऐसे लोगों को रजिस्ट्री दफ्तर से लौटाया जा रहा है। ऐसे मकान-प्लाट की खरीदी-बिक्री बंद होने का रियल एस्टेट कारोबार पर भी असर पड़ने लगा है।

पुराने वार्डों के अधिकांश मकान आबादी जमीन पर

जैसे, एक एकड़ के प्लाट को आबादी जमीन घोषित किया जाए तो इसके दायरे में जितने भी मकान बने या प्लाट काटे गए, किसी का दस्तावेज अलग नहीं बनाया गया और रिकार्ड में एक एकड़ जमीन पूरी की पूरी ही दर्ज है। जिस मकान या जमीन की रजिस्ट्री होनी है, उसका अलग रिकार्ड अनिवार्य है, इसलिए रजिस्ट्री रोकी जा रही हैं।

बंगाल पंचायत चुनाव : ग्रामीण इलाकों में तृणमूल...

61 सीटों पर आगे थे। 707 ग्राम पंचायतों में निर्दलीयों की जीत हुई है और 120 सीटों पर निर्दलीय आगे चल रहे थे। राज्य चुनाव आयोग के अनुसार तृकां ने 95 पंचायत समितियों पर जीत दर्ज की है, जबकि अंतिम समय तक मिले मतगणना के नतीजों में अन्य दलों का खाता नहीं खुला था। राज्य के तीन स्तरीय ग्राम पंचायत (48,650 सीट), पंचायत समिति (9,217) जिला परिषद (825) के लिए हुए चुनाव में कुल 58,692 सीटों में से 20,076 पर यानी 34.2 प्रतिशत सीटों पर निर्विरोध चुनाव हुआ था। इनमें अधिकांश पर तृकां के उम्मीदवार निर्वाचित हुए थे। बाकी सीटों के लिए 14 मई को मतदान हुआ था। इस दौरान हिंसा में करीब डेढ़ दर्जन लोग मारे गए थे। बीरभूम में मतगणना केंद्र के बाहर तृकां और भाजपा कार्यकर्ताओं में झड़प हो गई। उन्हें भगाने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

कूच विहार में आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। नदिया जिले का एक वीडियो सामने आया है। इसमें तृकां कार्यकर्ता मतगणना केंद्र में घुसकर बैलेट पेपर पर मुहर लगा रहे हैं।

-----------------

पंचायत चुनाव में खास :

- तृकां सभी 20 जिलों की पंचायत समितियों तथा ग्राम पंचायतों में बढ़त पर।

- जेल में बंद टीएमसी नेता अराबुल इस्लाम भंगार-II पंचायत समिति से चुनाव जीत गए।

- दक्षिण 24 परगना जिले में तृकां 1028, भाजपा 177, माकपा 72 और कांग्रेस के 5 उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की।

- भाजपा राज्य में अधिकतर जिलों में सत्ताधारी पार्टी की मुख्य प्रतिद्वंद्वी के तौर पर उभरी।

- पुरूलिया में भाजपा ने 275, तृणमूल ने 262, कांग्रेस और माकपा ने क्रमश: 60 और 44 सीटें जीती

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×