न्यूज़

--Advertisement--

जीजा का गुस्सा साले पर उतरा हिस्ट्रीशीटर ने बंधक बना पीटा

अमर पंजवानी पिता दयालदास पंजवानी उम्र निवासी रामा वेली मोबाइल एसेसरीज बेचता है। अमर के जीजा राजकुमार पंजवानी...

Danik Bhaskar

Jul 13, 2018, 03:30 AM IST

अमर पंजवानी पिता दयालदास पंजवानी उम्र निवासी रामा वेली मोबाइल एसेसरीज बेचता है। अमर के जीजा राजकुमार पंजवानी निवासी विजयापुरम का लेन देन हित्तू उर्फ हितेन्द्र सिंह ठाकुर के साथ चल रहा है। राजकुमार को लगभग 6 लाख रुपए हितेन्द्र सिंह ठाकुर को देना हैं। पिछले कुछ दिनों से हितेन्द्र रुपयों की वसूली के लिए राजकुमार की तलाश कर रहा है लेकिन उसका पता नहीं चल रहा है। बताया गया है कि बुधवार की सुबह हितेन्द्र ने राजकुमार के साले अमर को रवि मोदी के गीतांजलि फेस-1 के मकान में सुबह बुलाया और उसे बंधक बना लिया। बंधक बनाने के बाद अमर के साथ हितेन्द्र व उसके अन्य साथियों ने पहले तो मारपीट की और जीजा का पता पूछा। अमर ने जब राजकुमार के बारे में जानकारी होने से इनकार किया तो उसे पता करने के लिए समय दिया और छोड़ दिया। दोपहर में जब अमर फिर से गीतांजलि फेस-1 पहुंचा तो उसे फिर से बंधक बनाकर मारपीट की गई। गुरुवार की दोपहर अमर सरकंडा थाने पहुंचा और पुलिस को पूरा मामला बताया। पुलिस हरकत में आई और आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश भी दी लेकिन उसके हाथ कुछ न लगा।

सूजकर काले पड़ गए है पैर

आरोपियों ने अमर को किस कदर पीटा है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है उसके दोनों पैर बुरी तरह से सूजकर काले पड़ गए हैं। सुबह और शाम उसे जमकर पीटा गया है। पुलिस ने उसका जिला अस्पताल में मेडिकल कराया। इलाज कराने के बाद अमर को अस्पताल से डिस्चार्ज करवा लिया गया है।

हिस्ट्रीशीटर है हितेंद्र कई मामले चल रहे

सरकंडा के अशोक नगर में रहने वाला हितेन्द्र सिंह पर पहले से ही कई केस चल रहे हैं। इनमें डरा-धमकाकर जमीनों के सौदे करना व करवाना, प्रापर्टी डीलर से मारपीट का केस, क्षेत्र में आए दिन मारपीट कर दहशत का माहौल बनाना सहित कई अपराध विभिन्न पुलिस थानों में दर्ज है। अभी कुछ माह पहले ही राजीव विहार में भी उसने प्रापर्टी डीलर योगेश मिश्रा पिता लक्ष्मी मिश्रा को बंधक बनाकर उसके साथ मारपीट की थी।

जीजा का मोबाइल बंद

पुलिस ने राजकुमार के मोबाइल पर काल किया तो वह बंद मिला। उसके घर पर भी तलाश की लेकिन वह नहीं मिला। चर्चा है कि आरोपियों की धमकी के चलते ही वह अंडरग्राउंड हो गया है और उसे किसी अनहोनी की आशंका भी है। इसलिए वह सामने नहीं आ रहा है। जबकि पुलिस इसे साधारण मारपीट का केस मानकर जांच कर रही है।

पुलिस का अपहरण से इनकार

कोतवाली सीएसपी पीसी राय के मुताबिक रुपयों के लेनदेन को लेकर युवक को बंधक बनाकर मारपीट करने का मामला है, अपहरण जैसी कोई बात नहीं है। युवक बुलाने पर खुद वहां पहुंचा था। जिस युवक के साथ मारपीट की गई उसके जीजा से आरोपियों का रुपयों के लेनदेन को लेकर विवाद चल रहा है। सच्चाई जानने के लिए जांच कर रहे हैं। जल्द ही मामले का खुलासा होगा।

Click to listen..