न्यूज़

  • Home
  • Chhattisgarh News
  • Raipur News
  • News
  • बैलगाड़ी हांकते पहुंचे बघेल, पुलिस ने तहसील से पहले ही रोक लिया
--Advertisement--

बैलगाड़ी हांकते पहुंचे बघेल, पुलिस ने तहसील से पहले ही रोक लिया

तखतपुर के नए बस स्टैंड से रैली निकली जो तहसील के पास पहुंचकर खत्म हो गई। भास्कर संवाददाता | बिलासपुर/तखतपुर फसल...

Danik Bhaskar

Jul 13, 2018, 03:30 AM IST
तखतपुर के नए बस स्टैंड से रैली निकली जो तहसील के पास पहुंचकर खत्म हो गई।

भास्कर संवाददाता | बिलासपुर/तखतपुर

फसल बीमा और सूखा राहत सहित किसानों की कई समस्याओं को लेकर कांग्रेसी तखतपुर में तहसील को घेराव करने पहुंचे। प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल और अन्य कांग्रेसी नए बस स्टैंड से बैलगाड़ी में सवार होकर तहसील कार्यालय के पास पहुंचे। वहां पुलिस ने उन्हें पहले ही रोक दिया। आखिर वहां बनाए गए मंच से बघेल ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाए। जिला अध्यक्ष विजय केशरवानी ने तहसीलदार को राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया और प्रदर्शन खत्म हो गया।

तहसील कार्यालय के बाहर कांग्रेसियों को रोकने के लिए पुलिसकर्मी सुबह से ही मौजूद थे। कांग्रेस ने बाहर में ही मंच बना रखा था। रैली मंच के पास जाकर सभा में तब्दील हो गई। वहां पहुंचकर बघेल ने सभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि किसानों के साथ प्रीमियम की जबरन वसूली और क्लेम करने का अधिकार भी नहीं है। प्रदर्शन के दौरान विधायक दिलीप लहरिया, प्रदेश कांग्रेस सचिव आशीष सिंह, ब्लॉक अध्यक्ष शिव बालक कौशिक, पूर्व विधायक जगजीत सिंह मक्कड़, जिला पंचायत सदस्य जितेंद्र पांडेय, प्रदीप ताम्रकार, प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अटल श्रीवास्तव, प्रदेश सचिव महेश दुबे, अर्जुन तिवारी, नरेंद्र बोलर, शेख नजरूद्दीन सहित अन्य कांग्रेसी व किसान मौजूद रहे।

किसान लटकत हे अऊ सरकार मटकत हे: बघेल

प्रदेश अध्यक्ष बघेल ने कहा- सुवा नृत्य में मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष ठुमके लगा रहे हैं। किसान लटकत हे आऊ ये मन मटकत हे। उन्होंने कहा कि पुलिस को प्रदेश सरकार ने ठगा है जब आंदोलन कर रहे थे, उन्होंने पति और प|ी के बीच में लड़ाई करा दी। शिक्षाकर्मियों को संविलियन के नाम पर सरकार ने धोखा दिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनी तो किसानों के कर्ज माफ और बिजली बिल आधे किए जाएंगे। किसानों को फसल बीमा के नाम पर 1, 2 और 100 देकर मजाक किया गया है। हम किसानों के हक की लड़ाई लड़ेंगे।

Click to listen..