Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» Maoist Set Fire To 4 Vehicles In Bijapur

नक्सलियों ने कंपनी के मुंशी समेत दो लोगों की हत्या की, चार वाहनों को जला भी दिया

बुधवार को नक्सलियों ने मेडकपाल थाना इलाके में सड़क निर्माण में लगे वाहनों को फूंक दिया।

dainikbhaskar.com | Last Modified - May 17, 2018, 06:21 AM IST

  • नक्सलियों ने कंपनी के मुंशी समेत दो लोगों की हत्या की, चार वाहनों को जला भी दिया
    +2और स्लाइड देखें
    बीजापुर में माओवादियों ने मचाया तांडव।

    सुकमा/बीजापुर.बीजापुर में सड़क निर्माण का विरोध कर रहे नक्सलियों ने बुधवार दोपहर पुल बना रहे कंस्ट्रक्शन कंपनी के चार वाहनों और मशीनों को अाग के हवाले कर दिया। फिर मौके पर मौजूद मुंशी बटोही पाल की हत्या कर दी। दूसरी तरफ सुकमा जिले की सरहद से लगे पड़ोसी राज्य ओडिशा के मलकानगिरी जिले में नक्सलियों ने मंगलवार को जगदीश समरथ की गला रेतकर हत्या कर दी। नक्सली मंगलवार दोपहर टेमरुमपाल पंचायत के कोटापल्ली गांव पहुंचे और मुंशी जगदीश समरथ को घर से उठाकर जंगल में ले गए और गला रेतकर हत्या कर दी।


    मुंशियों को निर्माण कार्य से दूर रहने की दी थी हिदायत

    माओवादियों के मद्देड़ एरिया कमेटी द्वारा पर्चे फेंककर दो ठेकेदारों को जान से मारने की चेतावनी के साथ मुंशियों को निर्माण काम से दूर रहने की हिदायत भी दी है। घटना के बाद से सड़क, पुल-पुलिया निर्माण कार्यों से जुड़े ठेकेदारों में दहशत व्याप्त है। नक्सलियों ने चेतावनी दी है कि उनकी अनुमति के बिना अगर कोई ठेकेदार काम करता है तो उसे मौत की सजा दी जाएगी। वहीं नक्सलियों ने ठेकेदार और मुंशियों को हिदायत दी है कि वे सड़क और पुल-पुलियों के निर्माण कार्य से दूर रहें वरना सजा भुगतने को तैयार रहें। चिन्नाकोड़ेपाल-चिन्नाकवाली मार्ग के बीच पड़ने वाली नदी पर पुल का निर्माण चल रहा है।

    चार से पांच की संख्या में नक्सलियों ने वाहनों को किया आग के हवाले

    इसका ठेका शिवशक्ति इंजीनियरिंग वर्क्स को मिला था। कार्यस्थल पर बुधवार को दो अजाक्स मशीन, एक ट्रक और एक मार्शल वाहन वहां खड़े थे। सभी वाहन कंपनी के थे। रोज की तरह मजदूर काम पर लगे थे। दोपहर करीब 12 बजे 18-20 साल उम्र के चार-पांच युवक वहां डंडे लेकर आए और ड्राइवरों और कर्मियों से मोबाइल मांग लिया। सभी से मोबाइल लेने के बाद इन नक्सलियों ने वाहनों को आग के हवाले कर दिया।

    मद्देड़ एरिया कमेटी ने ली हत्या की जिम्मेदारी

    इस वारदात को मद्देड़ एरिया कमेेटी ने अंजाम दिया है। मौके पर छोड़े गए पर्चे में माओवादियों ने कहा है कि नक्सली आंदोलन को कुचलने के लिए ब्राहम्णीय हिंदूवादी मोदी व रमन सरकार कनेक्टिविटी बढ़ाने सड़क बनवा रही है। नक्सलियों ने कहा है कि उनकी पार्टी की अनुमति के बिना काम ना हो। ऐसा करने पर मौत की सजा दी जाएगी।

    18 से 20 साल की उम्र के थे, हर कर्मचारी के पीछे एक-एक नक्सली डंडा लेकर खड़े थे

    प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक घटनास्थल के चारों और बड़ी संख्या में नक्सली खड़े थे। जब वाहन जल रहे थे तो पुल के उस पार से आए साइट इंचार्ज बटोही पाॅल ने चिल्लाकर मजदूरों को आग बुझाने कहा। तभी बटोही पाॅल के पीछे दो बंदूकधारी नक्सली आ खड़े हुए और उसे अपने साथ ले गए। आगजनी के दौरान कार्यस्थल पर एक-एक कर्मी के पास कम से कम एक नक्सली डंडा लेकर खड़ा था। किसी भी कर्मचारी को एक दूसरे से संपर्क करने अथवा बातचीत करने नहीं दिया गया। कुछ देर बाद नक्सलियों ने घटना स्थल से कुछ दूर पर साइट इंचार्ज की धारदार हथियार से हत्या कर दी। घटना की सूचना के बाद दोपहर करीब तीन बजे मोदकपाल थाने से गई पुलिस ने शव को चिन्नाकोड़ेपाल से उठाकर पोस्टमार्टम के लिए हास्पिटल भिजवाया। बताया गया है कि बटोही पाॅल काफी दिनों से इस कंस्ट्रक्शन कंपनी में काम कर रहे थे।

  • नक्सलियों ने कंपनी के मुंशी समेत दो लोगों की हत्या की, चार वाहनों को जला भी दिया
    +2और स्लाइड देखें
    मौके पर पर्चे भी फेंके।
  • नक्सलियों ने कंपनी के मुंशी समेत दो लोगों की हत्या की, चार वाहनों को जला भी दिया
    +2और स्लाइड देखें
    बीजापुर. मृतक बटोही पाल, जिसकी बुधवार को नक्सलियों ने हत्या कर दी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×