Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» Officers Of Police Departing Duties In The Same District For 3 Years Will Be Transfer

3 साल से एक ही जिले में जमे अफसर हटेंगे, चुनाव से पहले बदल जाएगा राजधानी पुलिस का चेहरा

चुनाव आयोग : 30 अगस्त तक ट्रांसफर-पोस्टिंग के आदेश

dainikbhaskar.com | Last Modified - Aug 12, 2018, 06:10 PM IST

3 साल से एक ही जिले में जमे अफसर हटेंगे, चुनाव से पहले बदल जाएगा राजधानी पुलिस का चेहरा

रायपुर।चुनाव से पहले ही राजधानी पुलिस का चेहरा लगभग बदल जाएगा। आईजी से लेकर सब इंस्पेक्टर रैंक के दो दर्जन अफसर का तबादला होगा। इसको लेकर चुनाव आयोग ने आदेश जारी कर दिए हैं। इसके तहत 3 साल से एक ही जिले में जमे अफसरों के हटाने के लिए कहा गया है। इसके लिए चुनाव आयोग ने 30 अगस्त तक का समय दिया है।

- चुनाव आयोग का मानना है कि लंबे समय से जमे रहने वाले अफसरों से चुनाव प्रभावित हो सकता है। चुनाव आयोग ने राज्य सरकार को 30 अगस्त तक ट्रांसफर-पोस्टिंग पूरा करने का निर्देश दिया हैं, हालांकि 22 या 23 अगस्त को चुनाव आयुक्त छत्तीसगढ़ आ सकते हैं। उनके आने के पहले बड़े पैमाने में पर फेरबदल की संभावना हैं।

- पुलिस अफसरों के अनुसार लगातार तबादले की सूची लगातार जारी हो रही है। सप्ताहभर के भीतर सब इंस्पेक्टर की बड़ी सूची आने वाली हैं। उसके बाद राजपत्रित अधिकारियों की सूची आएगी।

चुनाव में बदल जाएंगे रायपुर आईजी
- चुनाव के मद्देनजर रायपुर आईजी प्रदीप गुप्ता का हटना तय माना जा रहा है। सर्विस रिकॉर्ड में रायपुर उनका गृह जिला है। उनकी जगह पर बिलासपुर आईजी दीपांशु काबरा या फिर सरगुजा आईजी हिमांशु गुप्ता को जिम्मेदारी दी जा सकती है।

- रायपुर आईजी का पद चुनाव के दृष्टि से बड़ा ही महत्वपूर्ण है क्योंकि वे चुनाव के लिए नोडल होते हैं। उन्हें पूरी सुरक्षा व्यवस्था देखनी होती हैं। हालांकि सरकार सीबीआई में पदस्थ आईजी अमीत कुमार का भी इंतजार कर रही है। अगर आचार संहिता से पहले आ गए तो उन्हें भी बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती हैं।


ग्रामीण एडिशनल एसपी को बदलने के संकेत
- एडिशनल एसपी ग्रामीण ओम प्रकाश शर्मा के बदले जाने के संकेत है। उनकी जगह कोतवाली में पदस्थ एएसपी सुखनंदन राठौर की पोस्टिंग हो सकती है। कुछ अफसर उन्हें रायपुर में ही रखना चाहते हैं। एएसपी शर्मा को पुलिस मुख्यालय में नई जिम्मेदारी दी जा सकती है।

- वहीं एडिशनल एसपी क्राइम का पद भी खाली है। इसमें एसपी रायपुर अपनी पसंद के अफसर को लाना चाहते हैं। चर्चा है कि अगर उनके पसंद के अफसर की वहां पोस्टिंग के लिए पीएचक्यू राजी नहीं होता तो उसे पद को खाली रखा जाएगा। क्राइम ब्रांच को डीएसपी के सुपरविजन में चलाया जाएगा।

- शहर में पदस्थ डेढ़ दर्जन सब इंस्पेक्टर भी बदले जाएंगे। इसमें क्राइम ब्रांच में पदस्थ राजेश मिश्रा, राजेंद्र कंवर, माना प्रभारी जीतेंद्र ताम्रकर, पंडरी प्रभारी के आर सिन्हा, चौकी प्रभारी एसएस सोरी, सिविल लाइंस में पदस्थ कमलेश बंजारे, टिकरापारा थाना से मनोहर सिन्हा समेत ट्रैफिक में पदस्थ एसआई शामिल हैं। हालांकि एसपी ने कुछ लोगों को गैर जिला बल में पदस्थ कर दिया है, ताकि उनका चुनाव में प्रभावित न हो।

दो जगह होनी हैं डीएसपी की पोस्टिंग
- राजधानी के दो महत्वपूर्ण सब डिवीजन कोतवाली और सिविल लाइंस में डीएसपी की पोस्टिंग नहीं की गई। इन दोनों पर डीएसपी की पोस्टिंग होना चाहिए। वहीं आजाद चौक में इंस्पेक्टर से प्रमोट हुए नसर सिद्दीकी की पोस्टिंग हुई है, तीन महीने बाद भी उन्होंने ज्वाइन नहीं किया।

- उनके साथ प्रमोट हुए डीएसपी कादिर खान, संध्या द्विवेदी, जीएस पति, आलीम खान समेत भी अन्य की भी नई पोस्टिंग नहीं की गई। जबकि प्रमोशन के बाद उनकी नई पोस्टिंग होनी है। उनकी पोस्टिंग की फाइल मंत्रालय में अटकी हुई है।

कंटेंट : प्रमोद साहू

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×