--Advertisement--

राहुल की हिदायत तीन महीने पार्टी लाइन से बाहर बात न करें; कहा- गलत बयान देकर विरोधियों काे मौका न दें

बयानबाजी के बाद नेताआें के बीच होने वाले मनमुटाव को देखते हुए राहुल गांधी ने सभी नेताआें को सख्त हिदायत दी

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 01:10 AM IST
Rahul Gandhi instructed Congress party workers

रायपुर. कांग्रेस नेताआें की पार्टी लाइन से बाहर जाकर की जाने वाली बयानबाजी पर कांग्रेस अध्यक्ष ने तीन महीने तक सख्त रोक लगा दी है। बयानबाजी के बाद नेताआें के बीच होने वाले मनमुटाव को देखते हुए राहुल गांधी ने सभी नेताआें को सख्त हिदायत दी है कि वे आने वाले चुनाव तक पार्टी लाइन से बाहर जाकर बात न करें।

यदि किसी को कुछ तकलीफ है तो वे पार्टी के नेताआें के बीच ही अपनी बात रखें। राहुल ने कहा कि पीएम मोदी कांग्रेस मुक्त भारत का सपना इसलिए देख रहे हैं क्योंकि वो जानते हैं कि यदि एक भी कांग्रेसी बच गया तो वह अकेला ही पूरे बीजेपी आैर आरएसएस का पतन करने के लिए काफी है। दरअसल, पीसीसी के कई नेताआें के बीच चल रही आपसी खींचतान की रिपोर्ट कुछ दिनों पहले ही राहुल गांधी तक पहुंची थी। तब से राहुल गांधी लगातार प्रदेश की गतिविधियों की मॉनिटरिंग करवा रहे हैं। इस दौरान भी कुछ ऐसी घटनाएं हुई हैं जिनसे बड़े नेताआें के बीच आपसी खींचतान उजागर हुई है।

गरीब, किसान, मजदूर के लिए काम करने की सलाह: राजीव भवन के उद्घाटन के बाद पीसीसी के पदाधिकारियों आैर अन्य नेताआें की बैठक में राहुल ने कहा कि भाजपा की खामियों को उजागर कर जनता को सच्चाई बताने की आेर ध्यान दें। क्योंकि चुनाव में बहुत ही कम समय बच गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा वाले गरीबों मजदूरों के हितों से खिलवाड़ कर रहे हैं। आप सबको गरीबों, मजदूरों आैर किसानों के हितों के लिए काम करना है। पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने प्रदेश कांग्रेस द्वारा चलाए जा रहे अभियान आैर योजनाआें का प्रजेंटेशन दिया।

सबको मिलकर लड़ने की सलाह : राहुल ने कहा कि यहां युवा आैर सीनियर लीडर हैं। सब मिलकर काम कीजिए। क्योंकि पार्टी में काम करने वालों को ही पद मिलेगा। काम नहीं करने वाला कितना भी बड़ा नेता हाे उसे बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा।
पहली बार दिख रहा संगठन का खौफ: कांग्रेस में पहली बार संगठन का खौफ दिख रहा है। ऐसा इसलिए भी कहा जा रहा है कि पार्टी लाइन से बाहर जाकर कोई भी नेता कुछ भी नहीं बोल रहा है। नेता एक-दूसरे के खिलाफ बोलने से बच रहे हैं। कांग्रेस नेता भी इस बात को स्वीकार कर रहे हैं कि संगठन का दबाव है इसलिए कोई कुछ भी नहीं बोल रहा है।

इसलिए मोदी देख रहे हैं कांग्रेस मुक्त भारत का सपना : राहुल गांधी ने कार्यकर्ताआें से कहा कि मोदी जी कांग्रेस मुक्त भारत का सपना देख रहे हैं। क्योंकि मोदी जी ये जानते हैं कि यदि एक भी कांग्रेसी बच गया या एक भी व्यक्ति के दिल में कांग्रेस की विचारधारा रह गई तो वह अकेला ही बीजेपी आैर आरएसएस का पतन कर सकता है।

X
Rahul Gandhi instructed Congress party workers
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..