न्यूज़

--Advertisement--

बस्तर में दो अलग-अलग मुठभेड़ में 5 लाख के ईनामी नक्सली समेत 3 माओवादी ढेर

बस्तर में नक्सलियों और पुलिस के बीच चल रहा युद्ध बुधवार की देर रात से तेज हो गया है।

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 07:36 PM IST
सुकमा में मारा गया एरिया कमांड सुकमा में मारा गया एरिया कमांड

सुकमा। बस्तर में नक्सलियों और पुलिस के बीच चल रहा युद्ध बुधवार की देर रात से तेज हो गया है। नक्सलियों ने हाल ही में हुए गढ़चिरौली और बीजापुर के एनकाउंटर के विरोध में शुक्रवार को बंद का आह्वान किया है। इस बंद से पहले जहां जवान इलाके की सुरक्षा में लगे हैं वहीं नक्सली बंद के समर्थन में हिंसा करने पर उतारू हैं। बुधवार की शाम से ही पुलिस और नक्सलियों ने अपने-अपने ऑपरेशन में लग गए हैं। सुकमा और बीजापुर जिले में तीन बड़े ऑपरेशन को अंजाम दिया गया। इनमें तीन नक्सली ढेर हो गए। मारे गए लोगों में एक 5 लाख का इनामी कोंटा एरिया कमेटी का नक्सली कमांडर सोयम कामा भी शामिल है।

50 से ज्यादा वारदातों में शामिल था सोयम कामा

-नक्सलियों के खिलाफ पहला ऑपरेशन बुधवार को लांच किया गया। शाम 6:30 बजे कोंटा के कन्हाईगुड़ा चिंताकोंटा के जंगलों में डीआरजी, एसटीएफ और जिला बल की एक ज्वाइंट टीम ने एक एनकाउंटर में 5 लाख रुपए के इनामी कोंटा एरिया कमेटी के नक्सली कमांडर सोयम कामा को मार गिराया है।

- सोयम गगनपल्ली का रहने वाला था और वह 50 से ज्यादा नक्सली वारदातों में शामिल था। सरकार ने उस पर करीब 5 लाख रुपए का इनाम भी घोषित किया था। पुलिस ने सोयम के शव के अलावा एक पिस्टल, दो मैगजीन, पिस्टल का एक राउंड, वायर, इंसास के छह जिंदा राउंड और अन्य सामान बरामद किए हैं।

- सोयम के एनकाउंटर में मारे जो की घटना को पुलिस अफसर बड़ी उपलब्धि बता रहे हैं। अफसरों का कहना है कि यह लंबे समय से नक्सलियों के लिए काम कर रहा था।

किस्टाराम में दो को किया ढेर एके-47 भी ले अाए


- इधर गुरुवार को एसटीएफ और डीआरजी की टीम ने किस्टाराम इलाके में चलाए गए ऑपरेशन में दो नक्सलियों को ढेर कर दिया। इस ऑपरेशन की बड़ी उपलब्धि यह है कि जवानों ने मारे गए दोनों नक्सलियों के शव के अलावा मौके से एक एके-47 भी बरामद की है। इस एनकाउंटर की पुष्टि करते हुए सुकमा एसपी अभिषेक मीणा ने बताया कि दो नक्सलियों के शव बरामद किए गए हैं। इसके अलावा मारे गए नक्सली की एके-47 भी मिली है। गौरतलब है कि नक्सली संगठन में एके-47 जैसे ऑटोमेटिक रायफल बड़े कैडर के पास ही रहता है। ऐसे में अफसरों को उम्मीद है कि मारा गया नक्सली कोई बड़ा लीडर होगा। इनकी शिनाख्ती की कोशिश की जा रही है।

पिछले कुछ महीनों में बड़े नक्सली मुठभेड़

- 28 अप्रैल : सुकमा के चिंतागुफा में मुठभेड़ के दौरान दो नक्सलियों के मारे जाने की सूचना मिली। इसमें एक महिला और एक पुरूष नक्सली थे। यहां से 11 देसी हथियार भी बरामद हुए।

- 27 अप्रैल : छत्तीसगढ़-तेलंगाना बाॅर्डर से 13 किमी दूर ग्रेहाउंड फोर्स ने एक बड़े एनकाउंटर को अंजाम दिया था। ग्रेहाउंड फोर्स ने छत्तीसगढ़ पुलिस की मदद से राज्य के इरमिड़ी इलाके की घेराबंदी कर नक्सलियों पर एक बड़ा हमला किया। इस हमले में फोर्स ने 10 नक्सलियों को मार गिराया। इस दौरान नक्सलियों की ओर से की गई फायरिंग में तेलंगाना के ग्रेहाउंड के 3 जवान भी घायल हो गए थे। जवानों ने जंगलों से 8 नक्सलियों के शव भी बरामद कर लिया था।

- 22 अप्रैल : विशेष अभियान दल (सी-60) के कमांडो और सीआरपीएफ की 9वीं बटालियन के जवानों ने भामरागढ़ तहसील में महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ राज्य की सीमा से लगे कसनापुर-बोरिया जंगल क्षेत्र में इंद्रावती नदी तट पर मुठभेड़ में 37 नक्सलियों को मार गिराया था। इसमें नक्सलियों के दो डिविजनल कमांडर- साईनाथ और श्रीनू भी शामिल थे। दोनों पर राज्य सरकार ने 16-16 लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा था। साईनाथ के खिलाफ जिले के विभिन्न थानों में 75 तो वहीं, श्रीनू के खिलाफ 82 मामले दर्ज किए गए थे।

- 02 मार्च : छत्तीसगढ़ के बीजापुर में होली के दिन एनकाउंटर में 6 महिला कमांडर समेत 10 नक्सली मारे गए। तेलंगाना पुलिस की ग्रेहाउंड्स फोर्स ने पड़ोसी राज्य की सीमा में 35 किमी अंदर घुसकर इस कार्रवाई को अंजाम दिया। इसमें कई बड़े नक्सली नेता के मारे जाने की भी पुष्टि हुई।

फोटो : रमाशंकर साहू

X
सुकमा में मारा गया एरिया कमांडसुकमा में मारा गया एरिया कमांड
Click to listen..