Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» Studio In Mumbai Put In The Face Clippings Operator Was Ready To Make A Government Witness

मुंबई के जिस स्टूडियो में पोर्न क्लिपिंग में चेहरा लगाया गया, उसके संचालक को सरकारी गवाह बनाने की तैयारी

- भुवनेश्वर का है मानस, कई बड़े फिल्मकारों के साथ किया है काम

Bhaskar News | Last Modified - Jun 13, 2018, 11:21 PM IST

मुंबई के जिस स्टूडियो में पोर्न क्लिपिंग में चेहरा लगाया गया, उसके संचालक को सरकारी गवाह बनाने की तैयारी

रायपुर.मंत्री राजेश मूणत का चेहरा पोर्न क्लिपिंग में लगाकर इसके जरिये ब्लैकमेलिंग के मामले में सीबीआई ने मुंबई के एक स्टूडियो संचालक मानस कुमार को आखिरकार घेर लिया है। पता चला है कि दो दिन से उससे सीबीआई बयान ले रही है और आशंका है कि सीडी में टेंपरिंग इसी स्टूडियो में की गई थी। उसे सरकारी गवाह बनाने की भी तैयारी है। हालांकि सीबीआई के अफसरों ने इन चर्चाओं को सही नहीं बताया है, लेकिन सीडी कांड की सबसे पहले जांच करनेवाली छत्तीसगढ़ की एसआईटी ने दिल्ली के उस दुकानदार नारंग को गवाह बना लिया था, जिसके यहां सीडी की कॉपी की गई।

- नारंग की शॉप में छापा और वहां से कथित सीडी की बरामदगी के बाद पुलिस ने वीडिया फुटेज लिए थे। इस आधार पर पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी की गई थी। एसआईटी के बाद सीबीआई ने इस मामले की जांच शुरू की और इसी कड़ी में मुंबई के उस स्टूडियो को घेरा, जहां फिल्मों और एलबम की एडिटिंग होती है।

- इसका संचालक मानस मूलत: भुवनेश्वर का है और कई साल से मुंबई में रह रहा है। वह कई बड़े फिल्मकारों के साथ काम कर चुका है। रायपुर के भी कई प्रभावशाली लोगों से उसके संपर्क निकल आए हैं।

सीबीआई से भागा कारोबारी
- सीडी कांड में हवाला का संतेही विजय पांड्या सीबीआई के घेरे से फरार हो गया है। उसके लिए सीबीआई ने मुंबई में भी घेरेबंदी की थी, लेकिन वह फंसा नहीं। भाग निकला है। वह दस दिन से अपने घर नहीं गया, सीबीआई में बयान के लिए भी नहीं पहुंचा है।

- हालांकि कुछ लोगों ने भास्कर को बताया कि वह भी सीबीआई हिरासत में है। राजधानी के जिस कारोबारी रिंकू खनूजा ने खुदकुशी की है, पांड्या उसके भी संपर्क में था।

सब इंस्पेक्टर भी दिल्ली लौटे

राजधानी के पुलिस आफिसर्स मेस में कैंप करनेवाली सीबीआई के आला अफसर चार दिन पहले दिल्ली लौट गए थे, अब सब इंस्पेक्टरों की वापसी भी शुरू हो गई है। यहां दो-तीन लोग ही बच गए हैं। सूत्रों के दावा है कि 25 मई के आसपास पूरी टीम फिर लौटेगी और कोर्ट में चालान पेश किया जा सकता है।

फंसने लगे भाजपाई तो लौटी सीबीआई : कांग्रेस

- कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि सीडी कांड की जांच निष्पक्ष तरीके से नहीं हो रही है। इसमें अब तक मीडिया में जो नाम सामने आए हैं, ज्यादातर भाजपाई हैं। उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जा रही है।

- पुनिया ने कहा कि सीबीआई जांच कांग्रेसियों को घेरने के लिए करवाई गई थी, लेकिन भाजपाइयों के ही नाम आने से मामला उलटा हो गया है। मीडिया से चर्चा में पुनिया ने दोहपाराय कि रिंकू खनूजा की मौत की जांच होनी चाहिए कि आखिरकार उसे इतना प्रताड़ित क्यों किया गया?

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×