--Advertisement--

एम्स में सर्जरी 6 माह बाद, बनेंगे 24 मॉड्यूलर ओटी, अभी एम्स में सिर्फ 4 ऑपरेशन थियेटर

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 07:55 AM IST

दो न्यूरो सर्जन, एक फिजिशियन एम्स में दो न्यूरो सर्जन के साथ एक न्यूरो फिजिशियन सेवाएं दे रहे हैं।

surgery in AIIMS

रायपुर. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में अगले छह माह में 24 नए माड्यूलर ऑपरेशन थिएटर चालू हो जाएंगे। इससे मरीजों को ऑपरेशन कराने के लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। वर्तमान में चार ओटी है। इसमें आई ओटी को पांच लोगों की आंखों में संक्रमण के बाद सील कर दिया गया है। इससे मोतियाबिंद व आंख का ऑपरेशन पूरी तरह ठप है। एम्स में हार्ट के मरीजों की एंजियोग्राफी व एंजियोप्लास्टी भी महीनेभर के भीतर शुरू हो जाएगी।

महीनेभर में चार नए ऑपरेशन थियेटर हो जाएंगे शुरू

मेडिकल अधीक्षक डॉ. अजय दानी ने बताया कि महीनेभर में चार नए ऑपरेशन थिएटर शुरू हो जाएंगे। एम्स में केवल चार ओटी में मरीजों का ऑपरेशन होने से वेटिंग काफी लंबी हो गई है। मोतियाबिंद कांड के बाद केवल तीन मेजर ओटी में मरीजों का ऑपरेशन किया जा रहा है। नए ओटी काम अंतिम चरण में है। अधिकारियों के अनुसार आने वाले दिनों में हर महीने तीन से चार ओटी शुरू किए जाएंगे। वर्तमान में सर्जरी, गायनी, ऑर्थो, पीडियाट्रिक सर्जरी, ईएनटी, कार्डियक सर्जरी व कुछ अन्य विभागों में मरीजों का ऑपरेशन किया जा रहा है। केवल तीन ओटी होने से एक डॉक्टर को महीने में महज दो बार मरीजों का ऑपरेशन करने का मौका मिलता है। इसी माह एक मेडिकल छात्रा के बीमार पड़ने पर ऑपरेशन करने के लिए छह से सात घंटे ओटी खाली होने का इंतजार करना पड़ा। इसे लेकर विवाद भी हुआ था।

दो न्यूरो सर्जन, एक फिजिशियन एम्स में दो न्यूरो सर्जन के साथ एक न्यूरो फिजिशियन सेवाएं दे रहे हैं। इससे ब्रेन व नस से जुड़ी बीमारियों का इलाज आसान हो गया है। ब्रेन से जुड़े छोटे ऑपरेशन भी किए जा रहे हैं। बड़े ऑपरेशन सेटअप पूरी तरह तैयार होने के बाद किया जाएगा। सड़क दुर्घटना व इमरजेंसी में आने वाले मरीजों को अभी भर्ती नहीं किया जा रहा है। डॉ. दानी का कहना है कि जिस मरीज का इलाज संभव है, उन्हें भर्ती कर रहे हैं। आने वाले दिनों में ट्रामा सेंटर शुरू होगा, जहां मरीजों को 24 घंटे भर्ती कर इलाज किया जाएगा।

रोबोट से सर्जरी भी
आने वाले दिनों में एम्स में रोबोटिक सर्जरी शुरू की जाएगी। जोधपुर एम्स में रोबोटिक सर्जरी यूनिट की स्थापना अंतिम चरण में है। रायपुर में भी यह यूनिट शुरू होने से मरीजों को हाइटेक ऑपरेशन की सुविधा मिलने लगेगी। अस्पताल में कुल 30 मॉड्यूलर ओटी रहेंगे। इसमें चार ओटी चल रहे हैं। 15 ओटी इंटीग्रेटेड हैं, जिससे मेडिकल छात्र लेक्चर के दौरान सर्जरी भी देख सकते हैं।

X
surgery in AIIMS
Astrology

Recommended

Click to listen..