--Advertisement--

कांधों पर मरीज को लेकर 20 किमी का सफर पैदल तय कर भारी बारिश के बीच ग्रामीण पहुंचे अस्पताल

नक्सल प्रभावित क्षेत्र बचेली की घटना, पालनार और लोहा गांव से मरीज को लाने वाले ग्रामीण भी हुए बीमार

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 07:57 PM IST
बारिश में 20 किमी का सफर तय कर मर बारिश में 20 किमी का सफर तय कर मर

दंतेवाड़ा। सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद आजादी के 70 साल बाद भी बस्तर के हालात बदल नहीं पाए हैं। उसमें ऐसी तस्वीर और भी विचलित करती है। सबसे बुरा हाल नक्सल प्रभावित क्षेत्र का है। जहां आज भी ग्रामीणों को उपचार कराने के लिए जद्दोजहद करनी पड़ रही है। ऐसे ही एक रोगी को लेकर पैदल 20 घंटे का सफर तय कर ग्रामीण शनिवार को बचेली गांव पहुंचे। भारी बारिश में कंधे पर रोगी को लेकर आए ये ग्रामीण भी बीमार पड़ गए। उन्हें भी उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करना पड़ा है।

- जानकारी के मुताबिक, कुछ ग्रामीण शनिवार को भारी बारिश के बीच कांवड़ में एक मरीज को लेकर बचेली के आकाश नगर पहुंचे। मरीज को बारिश से बचाने के लिए इन ग्रामीणों ने ताल पतरी का सहारा लिया। दरअसल, बैलाडीला पहाड़ के पीछे बसे गांव पालनार व लोहा गांव के ग्रामीण बिरजू और कोमो मरीज को लेकर आए थे।

- दोनों ग्रामीणों ने बताया कि वो शुक्रवार शाम मरीज को इसी तरह कांवड़ जैसे कंधों पर लेकर घर से निकले हैं। बारिश में आकाश नगर तक पहुंचने करीब 20 किमी का सफर उन्हें पैदल तय करना था। इसलिए राशन भी साथ लेकर निकले।

- इस लंबे सफर में वो 4 बरसाती नालों, जंगल, पहाड़ी को पार कर शनिवार शाम बचेली के आकाश नगर पहुंचे। यहां एनएमडीसी के कर्मचारी उन्हें प्राथमिक उपचार के लिए अस्पताल लाए। इसके बाद यहां से एनएमडीसी की एंबुलेंस से उन्हें बचेली स्थित अपोलो अस्पताल भेजा गया। मरीज को अस्पताल लगाने वाले ग्रामीण भी थककर बीमार पड़ गए।

- एनएमडीसी कर्मचारियों ने बताया कि बैलाडीला पहाड़ के पीछे स्थित गांवों के ग्रामीण मरीजों को अक्सर ऐसे ही लेकर पहुंचते हैं। आकाशनगर पहुंचने के बाद इन्हें बचेली के अस्पताल तक पहुंचने एंबुलेंस भेजी जाती है।

X
बारिश में 20 किमी का सफर तय कर मरबारिश में 20 किमी का सफर तय कर मर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..