--Advertisement--

23,12,620 क्विंटल धान नहीं उठा

Rajnandgaon News - क्षेत्र में इस वर्ष अच्छे मानसून के चलते धान की बंपर उत्पादन हुआ है। किसान समर्थन मूल्य पर धान बेचने अब समितियों...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 03:15 AM IST
Uparvah News - 2312620 quintals of rice not raised
क्षेत्र में इस वर्ष अच्छे मानसून के चलते धान की बंपर उत्पादन हुआ है। किसान समर्थन मूल्य पर धान बेचने अब समितियों में आगे एक माह तक की टोकन लेकर बारी का इंतजार कर रहे हैं। वहीं मिलर्स व संग्रहण केंद्रों द्वारा धान के उठाव में कोताही बरतने से धान सोसायटियों में ही जाम होने लगा है।

यही स्थिति रही तो कुछ ही दिनों बाद खरीदी प्रभावित हो सकती है। जिससे किसानों को रतजगा का सामना करना पड़ सकता है। बघेरा में खरीदे गए धान को सुरक्षित रखने चबूतरा नहीं होने से चूहे नुकसान पहुंचा रहे हैं। बारदाने को दीमक भी क्षति पहुंचा रहे हैं। बघेरा में धान ख़रीदी के लिए अन्य जगह को चयनित कर पक्का चबूतरा तैयार कर लिया गया है जो कि लगभग पांच वर्ष हो चुका है जिसे पंचायत ने बनवाया है, लेकिन आसपास जमीन गीली रहती है जिससे परिवहन में बाधा हो सकती है। इसके चलते सोसायटी ने यहां खरीदी शुरू नहीं की गई है। वर्तमान में जहां धान खरीदा जा रहा है सोसायटी के हिसाब से पर्याप्त मैदान है।

केंद्र उपरवाह/बघेरा में अब तक 415/428 किसानों से 18445.40/ 19080.80 क्विंटल धान खरीदा गया है। इसमें मिल को (7200+7200) 14400 क्विंटल जारी किया गया है। जबकि दोनों केंद्रों को मिलाकर 23,12,620 क्विंटल धान उठाव नहीं होने से जाम है। एक नवंबर से सात दिसंबर तक उपरवाह एवं बघेरा में क्रमशः 3,92,219,752 रुपए व 3,79,17,182 रुपए कुल 77136934 रुपए का खरीदी हो चुकी है। वहीं किसानों ने सोसायटी के ऋण के विरुद्ध 1,84,40,463 रुपए अदायगी कर चुके हैं व किसानों को 5,36,62,549 रुपए का भुगतान हो चुका है।

सूखत के कारण नुकसान: सोसायटी प्रबंधक डोमन लाल साहू ने बताया कि समय पर धान का उठाव नहीं होने से सूखत के कारण इसकी भरपाई सोसायटी को उठाना पड़ता है। पदुमतरा, घुमका, गठुला, भैंसातरा खरीदी केंद्रों में लगभग यही स्थिति है।

उपरवाह.खरीदी केंद्रों में उठाव नहीं होने के कारण जाम पड़ा है।

X
Uparvah News - 2312620 quintals of rice not raised
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..