दलित, पीड़ित, शोषित लोगों के मसीहा थे डॉ. भीमराव आंबेडकर

Rajnandgaon News - भारत र| डाॅ. भीमराव आंबेडकर की 128 वीं जयंती पर ग्राम मन्होरा खुज्जी में वैचारिक संगोष्ठी व कवि सम्मेलन 14 अप्रैल को...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 06:51 AM IST
Dongargaon News - chhattisgarh news dr bhimrao ambedkar was the messiah of the oppressed oppressed oppressed people
भारत र| डाॅ. भीमराव आंबेडकर की 128 वीं जयंती पर ग्राम मन्होरा खुज्जी में वैचारिक संगोष्ठी व कवि सम्मेलन 14 अप्रैल को हुआ। मुख्य अतिथि तुलसी मानस प्रतिष्ठान जिला इकाई राजनांदगांव के उपाध्यक्ष तामेश्वर प्रसाद साहू एवं विशेष आतिथि शिक्षक द्वारिका प्रसाद साहू थे। अध्यक्षता शिवनाथ साहित्य धारा डोंगरगांव के संरक्षक वीरेन्द्र कुमार तिवारी ने की।

संगोष्ठी में तीनों वक्ताओं ने बाबा साहेब आंबेडकर के व्यक्तित्व व कृतित्व पर अपने विचार रखते हुए उन्हें दलित, पीड़ित, शोषित व सामाजिक न्याय एवं आर्थिक विकास से वंचित लोगों का मसीहा बताया। बाबा साहेब की दूरदर्शी विचारों को अंगीकार कर मानव समाज की बेहतरी में जुटने का आह्वान किया। इस अवसर पर कवि सम्मेलन में वीरेन्द्र कुमार तिवारी अर्जुनी के संचालन में संतूराम गंजीर खुर्शीपार, जितेंद्र पटेल, दिनेश सिंह राजपूत गोटाटोला, गोवरधन परतेती डोंगरगांव, कन्हैया मेश्राम किरगी, विकास देवांगन खुज्जी एवं स्थानीय रचनाकार धनराज साहू, जगन्नाथ हुमने, यादव राम खोब्रागढे, सरिता मेश्राम ने रचना पाठ किया। इस अव‌सर पर कार्यक्रम में सेवानिवृत्ति आयुर्वेद चिकित्सक वर्मा खुज्जी सहित बड़ी संख्या में सभी वर्ग की ग्रामीण महिला-पुरुष उपस्थित रहकर सामाजिक समरसता एवं समन्वय की मिसाल कायम किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में संयोजन में धनराज साहू, जगन्नाथ हुमने व यादव राम खोब्रागढे की भूमिका रही।

X
Dongargaon News - chhattisgarh news dr bhimrao ambedkar was the messiah of the oppressed oppressed oppressed people
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना