प्रवेश की मारामारी, ओपन प्लेटफाॅर्म से बाहरी छात्र बढ़े

Rajnandgaon News - शहर के तीन बड़े कॉलेज दिग्विजय, कमला और साइंस कॉलेज में इन दिनों एडमिशन के लिए मारामारी मची हुई। किसी कॉलेज में...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:35 AM IST
Rajnandgaon News - chhattisgarh news entrance fights external students grow from open platform
शहर के तीन बड़े कॉलेज दिग्विजय, कमला और साइंस कॉलेज में इन दिनों एडमिशन के लिए मारामारी मची हुई। किसी कॉलेज में दूसरी तो किसी तीसरी सूची का प्रकाशन हो चुका है।

ओपन प्लेटफार्म होने की वजह से इस साल जिले से बाहर रहने वाले छात्रों की संख्या बढ़ गई है। ऐसे में स्थानीय स्टूडेंट्स को प्रवेश पाने के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

तीनों कॉलेजेस अपने शेड्यूल अनुसार एडमिशन ले रहें है। भास्कर ने शनिवार को तीनों का कॉलेज का एडमिशन डाटा लिया। पता चला कि 50 फीसदी सीट भर चुकी है। सर्वाधिक सीटे दिग्विजय कॉलेज की भरी है। जुलाई तक यह कार्य जारी रहेगा। ऐसे में कॉलेज में पढ़ाई व्यवस्था बाधित होगी। रिजल्ट नहीं आने के कारण पीजी में दाखिला अभी शुरू नहीं हो पाया है। एडमिशन के फेर में अब तक कॉलेज में पढ़ाई शुरू नहीं हो पाई है, प्रबंधन की मानें तो 15 जुलाई से क्लासेस शुरू हो जाएगी।

जुलाई तक चलेगा प्रवेश: कॉलेज वार एडमिशन की स्थिति

राजनांदगांव. दिग्विजय कॉलेज में चस्पा सूची में अपना नाम देखते स्टूडेंट्स।

कमला कॉलेज: कमला कॉलेज में भी एडमिशन लेने के लिए काफी संख्या में आवेदन आए हैं। ग्रीन कैंम्पस, हॉस्टल सुविधा की वजह से इस कॉलेज में पढ़ने के लिए दूसरे जिलों व शहरों के स्टूडेंट्स ने दिलचस्पी दिखाई है। कमला कॉलेज गर्ल्स कॉलेज है। यहां सभी जरूरी सुविधाएं कैम्पस में ही मौजूद है, इसलिए छात्राओं की सुरक्षा को ध्यान मेें रखकर पालक कमला कॉलेज का चुनाव कर रहे हैं। कमला कॉलेज में बीएससी बायोलॉजी में कुल 240 सीट है। इसी तरह मैथ्स में 80, माइक्रोबायोलॉजी में 40, बीए में 240, बीकॉम में 120 सीट है। शनिवार की स्थिति तक बायोलॉजी में 143 सीट, मैथ्स मैथ्स में 32 और माइक्रोबायोलॉजी में 18 सीट में एडमिशन दिया जा चुका है। इस कॉलेज में एडमिशन कार्यों की वजह से पढ़ाई कार्य प्रभावित हो रहा है। जल्द ही कॉलेज प्रबंधन पढाई शुरू करवाएगी।

दिग्विजय कॉलेज: जिले के सबसे बड़ा दिग्विजय महाविद्यालय में प्रवेश लेने के लिए छात्रों की होड़ मची है। यहां दूसरी सूची में शामिल स्टूडेंट्स को एडमिशन के लिए मौका दिया जा रहा है। 15 जुलाई को अंतिम मोहलत है, इसके बाद तीसरी सूची के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा। शनिवार की स्थिति में बीए प्रथम वर्ष के कुल 440 सीटों के विरूद्ध 250 सीट में प्रवेश हो चुका है। बीएससी बायोलॉजी में 400 सीट के विरूद्ध 260, मैथ्स में 300 सीट के विरूद्ध 190 और बीकॉम में 360 सीट के विरूद्ध 275 सीट में प्रवेश दिया जा चुका है। दिग्विजय कॉलेज में प्रवेश के लिए हजारों की संख्या में आवेदन मिले थे। मेरिट के आधार पर सूची तैयार कर स्टूडेंट्स को मौका दिया जा रहा है।

साइंस कॉलेज: गौरव पथ किनारे स्थित साइंस कॉलेज में प्रवेश लेने बाहरी छात्रों की ज्यादा रुचि नहीं है। लोकल व ग्रामीण अंचल की छात्र छात्राएं यहां एडमिशन के लिए पहुंच रहे हैं। यहां तीसरी सूची के आधार पर प्रवेश दिया जा रहा है। जल्द ही चौथी सूची चस्पा की जाएगी। यहां बीएससी बायोलॉजी में कुल 120, मैथ्स में 120, कम्प्यूटर साइंस में 20, बीए में 80 और बीकॉम में 80 सीट है। इसके विरूद्ध बीएससी बायोलॉजी में 81, मैथ्स में 47, बीए में 49 और बीकॉम में 33 सीट भर चुकी है। इस बार साइंस कॉलेज में बीएससी मैथ्स सामान्य कटऑफ 64 प्रतिशत गया है। इसी तरह बॉयोलॉजी में 70, बीए में 61 और बीकॉम में 60.4 फीसदी कटऑफ गया है। पहले इस कॉलेज में केवल साइंस संकाय की पढ़ाई होती थी। कुछ साल पहले ही छात्रों की मांग को देखते हुए बीए और बीकॉम संकाय ओपन किया गया।

X
Rajnandgaon News - chhattisgarh news entrance fights external students grow from open platform
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना