अवैध ब्लास्टिंग, समझौते तक ही सीमित पुलिस, ब्लास्टर तक भी नहीं पहुंच पाए

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:36 AM IST

Rajnandgaon News - डोंगरगांव पहुंच मार्ग पर ग्राम अर्जुनी के आसपास संचालित पत्थर खदानों में आए दिन अवैध रूप से ब्लास्टिंग की शिकायत...

Rajnandgaon News - chhattisgarh news illegal blasting limited confinement to police blaster too
डोंगरगांव पहुंच मार्ग पर ग्राम अर्जुनी के आसपास संचालित पत्थर खदानों में आए दिन अवैध रूप से ब्लास्टिंग की शिकायत सामने आ रही है। हाल ही में हुई ब्लास्टिंग से तीन कवेलू वाले मकान क्षतिग्रस्त हुए। इन मकानों की दीवारें हिल गई। मामला पुलिस तक भी पहुंच गया पर धमाका करने और कराने वालों पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। पुलिस यह कहकर टालमटोल कर रही है कि जिनका मकान प्रभावित हुआ है वे सिर्फ नुकसान की भरपाई चाह रहे हैं।

वहीं पुलिस ने अब तक ब्लास्टर का बयान तक नहीं लिया है। स्पष्ट ही नहीं कर पाएं हैं कि ब्लास्ट करने वाले के पास लाइसेंस है या नहीं? पुलिस को तो यह भी पता नहीं चल पाया है कि ब्लास्ट करने के लिए वैध बारूद और इस्तेमाल हुआ है या नहीं अवैध? खदानों में जल्द से जल्द खनिज निकालने की होड़ में हैवी धमाका किया जाता है जबकि आसपास में बस्ती है। कुछ ही दूरी पर स्टेट हाईवे है जहां पर 24 घंटे मालवाहक व यात्री बसों की आवाजाही होती रहती है। इसके बाद भी खदान संचालन सुरक्षा इंतजाम किए बिना ही हैवी ब्लास्ट कर लोगों की जान को खतरे में डाल रहे हैं।

खदानों पर अंकुश नहीं

डोंगरगांव सहित जिले के अन्य खदानों में हैवी ब्लास्टिंग की शिकायत आम हो गई है। इसके बाद भी माइनिंग डिपार्ट के अफसर इन खदानों पर अंकुश नहीं लगा रहे हैं। अफसर यह कहकर पल्ला झाड़ रहे हैं कि ब्लास्टिंग के दौरान सुरक्षा के लिए तैनात रहने की जिम्मेदारी पुलिस की है। दूसरी ओर पुलिस भी ऐसे धमाकों पर अंकुश लगाने में फेल है, जबकि राजनांदगांव जिला नक्सल प्रभावित है। ऐसे में यहां गंभीरता नहीं बरत रहे हैं।


बारूद जब्त की थी

दो साल पहले सोमनी पुलिस की ओर से थाना क्षेत्र में संचालित होने वाले खदानों में दबिश दी गई थी तब खदान मालिकों के पास लाइसेंस से अधिक बारूद और डेटोनेटर बरामद हुआ था, इन सामानों को ब्लास्टिंग में इस्तेमाल किया जाता है। खदान मालिकों ने अपने बचाव के लिए कर्मचारियों पर पल्ला झाड़ लिया था। शिकायतों के बाद भी खदानों में अवैध ब्लास्टिंग नहीं रोक पा रहे हैं। इससे मनमानी जारी है।

X
Rajnandgaon News - chhattisgarh news illegal blasting limited confinement to police blaster too
COMMENT