एक-दूसरे का सहयोग करने से ही आगे बढ़ेगा समाज, पीछे न रहें

Rajnandgaon News - इस आधुनिक दौर में हायर एजुकेशन के पीछे तो सारे लोग दौड़ रहे हैं पर साधुमार्गी जैन समाज अन्य समाज से परे हटकर नई पीढ़ी...

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 03:27 AM IST
Rajnandgaon News - chhattisgarh news society will go forward only by cooperating with each other do not stay behind
इस आधुनिक दौर में हायर एजुकेशन के पीछे तो सारे लोग दौड़ रहे हैं पर साधुमार्गी जैन समाज अन्य समाज से परे हटकर नई पीढ़ी को संस्कारवान बनाने के लिए हर गांव व कस्बे में संस्कारों की पाठशाला लगा रही है। छत्तीसगढ़ के हर जिले, ब्लॉक और कस्बे में इन पाठशालाओं के माध्यम से नई पीढ़ी धार्मिक और सामाजिक जिम्मेदारियों से वाकिफ हो रही है। रविवार को पाताल भैरवी मंदिर परिसर में स्थित सभागार में हुए समाज के वार्षिक स्नेह सम्मेलन में पदाधिकारियों ने शिक्षा के साथ ही संस्कार भी दिए जाने पर जोर दिया।

राष्ट्रीय महामंत्री दिनेश आचलिया, छत्तीसगढ़ प्रमुख अमरचंद बाफना सहित अन्य पदाधिकारियों ने समता संघ से जुड़कर रहने और सहयोग के लिए आगे आने का आह्वान किया। कहा कि सामाजिक और धार्मिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए हर गांव व कस्बे में समता भवन का होना जरूरी है ताकि समाज के लोग यहां एकजुट होकर समाज उत्थान की दिशा में कर सकें।

पदाधिकारियों ने संघ के माध्यम से सेवा कार्यों को बढ़ावा देने कहा। जिन गांवों व कस्बे में पाठशाला नहीं लग रही है, वहां पाठशाला खोलने पर जोर दिया।

आप भी सीखें: संस्कारों की पाठशाला में बता रहे जिम्मेदारियां

राजनांदगांव.पाताल भैरवी मंदिर परिसर में हुए सम्मेलन में प्रदेश भर से समाज के लोग शामिल हुए।

सामाजिक स्तर पर चल रहा जनगणना का काम

सम्मेलन में प्रदेशभर से 2500 से ज्यादा सामाजिक सदस्य जुटे। समाज का नाम रोशन करने वाले सदस्यों का सम्मान भी किया गया। समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयचंद डागा ने बताया कि सामाजिक स्तर पर जनगणना का कार्य कराया जा रहा है। इसके माध्यम से नए परिवार जुड़ते जा रहे हैं। हर क्षेत्र में संघ की स्थापना का क्रम भी जारी है। जनगणना के बाद सभी परिवारों का एक पहचान पत्र भी बनाया जाएगा यह जानकारी दी गई।

सामाजिक परिचर्चा के बाद सांस्कृतिक प्रस्तुति

दोपहर दो बजे तक सामाजिक परिचर्चा हुई। इसके बाद दुर्ग, भिलाई, राजनांदगांव, कोंडागांव व रायपुर से पहुंचे संस्कार की पाठशाला के बच्चों की ओर से सांस्कृतिक प्रस्तुति दी गई। नृत्य और गीत की प्रस्तुति से धार्मिक क्रियाकलापों से जुड़े रहने का आह्वान किया गया। राजनांदगांव के समाज प्रमुख मदन लाल पारख गौतम पारख, राजेन्द्र सुराना, ललित चौरडिया सहित अन्य पदाधिकारी मौके पर मौजूद रहे।

उत्कृष्ट कार्य करने वालों का किया गया सम्मान

आयोजन में समाज के ऐसे लोगों को भी सम्मानित किया गया, जिन्होंने समाज सेवा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य किए हैं। इसके अलावा जैन समाज का नाम रोशन करने वाले अलग-अलग क्षेत्र के लोग भी सम्मानित हुए। एक दिवसीय आयोजन में राज्य भर के 2500 से अधिक लोग शामिल हुए। समाज के युवाओं और बुजुर्गों को सेवा कार्यों से जुड़कर रहने की सीख दी साथ ही मदद के लिए हमेशा तत्पर रहने को कहा।

X
Rajnandgaon News - chhattisgarh news society will go forward only by cooperating with each other do not stay behind
COMMENT