--Advertisement--

टोकन कटाने के बाद भी 3000 किसानों ने अब तक नहीं बेचा धान

Rajnandgaon News - कर्ज माफी के गणित के चलते ज्यादातर किसान धान नहीं बेच रहे है। टोकन लेने के बाद भी 3664 किसानों ने धान नहीं बेचा है। अब...

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 03:06 AM IST
Rajnandgaon News - despite the token cut 3000 farmers have not yet sold paddy
कर्ज माफी के गणित के चलते ज्यादातर किसान धान नहीं बेच रहे है। टोकन लेने के बाद भी 3664 किसानों ने धान नहीं बेचा है। अब तक 55817 किसानों को टोकन जारी किया जा चुका है। इसमें से 52153 किसानों ने धान बेचा है।

कर्ज माफी के फेर में ज्यादातर किसान खलियानों में धान स्टॉक कर रख रहे है और बेसब्री से चुनाव परिणाम का इंतजार कर रहे है। परिणाम आने के बाद ही वे समितियों में धान बेचेंगे। दूसरी ओर उठाव कमजोर होने के कारण केंद्र जाम की स्थिति से उबर नहीं पा रहे है। शुक्रवार की स्थिति में 114 में से 97 केंद्रों में धान स्टॉक बफर लिमिट कर जाने की जानकारी सामने आई। हालांकि किसी भी केंद्र में खरीदी रुकने की रिपोर्ट नहीं मिली है। 1407502 क्विंटल धान अभी भी केंद्रों में जाम है। संग्रहण केंद्रों में परिवहन के लिए डीएमओ की ओर से सुस्ती बरती जा रही है। आर्डर जारी करने में देरी किया जा रहा है। क्योंकि मिलर्स प्रतिदिन सिर्फ 25 फीसदी उठाव ही बमुश्किल कर पा रहे है। शेष 75 फीसदी धान हर रोज केंद्रों में जाम हो रहा है।

19.61 लाख क्विंटल हो चुकी है खरीदी: अब तक 46760 किसानों ने 1961305.20 क्विंटल धान बेच चुके है। समर्थन मूल्य, बोनस और प्रशासनिक व्यय मूल्य जोड़कर बेचे गए धान का मूल्य 40609.61 लाख रुपए है। लिकिंग के माध्यम से 13074.26 लाख रुपए कर्ज वसूली की जा चुकी है।

X
Rajnandgaon News - despite the token cut 3000 farmers have not yet sold paddy
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..