Hindi News »Chhatisgarh »Sakti» बुराई को देखना और सुनना ही बुराई की शुरुआत है। -कन्फ्यूशियस

बुराई को देखना और सुनना ही बुराई की शुरुआत है। -कन्फ्यूशियस

सक्ती अकलतरा बाराद्वार बलौदा डभरा मालखरौदा ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 25, 2018, 02:45 AM IST

सक्ती अकलतरा बाराद्वार बलौदा डभरा मालखरौदा

पप्पू की छत टपक रही थी ठीक डाइनिंग टेबल के ऊपर... पलंबर ने पूछा- आपको कब पता चला? पप्पू- कल रात को जब मेरा पैग तीन घंटे तक ख़त्म नहीं हुआ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sakti

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×