Hindi News »Chhatisgarh »Sakti» पंचमी पर लोट मारते आएंगे मां अष्टभुजी के दरबार भक्त, मंदिरों में उमड़ेगी भीड़

पंचमी पर लोट मारते आएंगे मां अष्टभुजी के दरबार भक्त, मंदिरों में उमड़ेगी भीड़

चैत्र नवरात्र को लेकर नगर सहित अंचल के देवी मंदिरों में मां शक्ति की आराधना हो रही है। गुरूवार पंचमी तिथि पर देवी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 22, 2018, 03:35 AM IST

चैत्र नवरात्र को लेकर नगर सहित अंचल के देवी मंदिरों में मां शक्ति की आराधना हो रही है। गुरूवार पंचमी तिथि पर देवी मंदिरों में दर्शन-पूजन के लिए भक्तों का सैलाब उमड़ेगा। नगर के आदि शक्ति मां महामाया मंदिर, दुर्गा मंदिर, मां भीमेश्वरी मंदिर, वैष्णव देवी दरबार अखराभांठा, गायत्री शक्तिपीठ के साथ 8 किमी दूर अड़भार स्थित मां अष्टभुजी के दरबार में भक्त पंचमी तिथि पर लोट मारते हुए पहुंचेंगे।

नवरात्र को लेकर अष्टभुजी के दरबार में सुबह से ही भक्तों की भीड़ उमड़ रही है। मनोकामनाओं की पूर्ति के लिये मां के दरबार में पहुंचकर मत्था टेक रहे हैं। मनोकामना पूर्ति के लिए बड़ी संख्या में ज्योति कलश प्रज्जवलित कराए गए हैं। पंचमी के दिन माता के पट खुलते ही श्रद्धालु महिला-पुरुष जमीन नापते हुए माता के दरबार पहुंचेंगे। ग्राम उल्दा में विराजित वैष्णव देवी मंदिर में सुबह से लेकर देर रात तक लोग कतार में लगकर मां का दर्शन कर रहे हैं । 8 दिनों तक निर्जला एवं फलाहारी उपवास रखकर माता को मनाने एवं अपनी मनोकामना पूर्ति के लिए मां के दरबार में सुबह-शाम पहुंच रहे हैं।

महिलाओं ने की गणगौर माता की आराधना

महिलाओं द्वारा चैत्र नवरात्र के तीसरे दिन गणगौर माता की पूजा-आराधना करते हुए।

भास्कर न्यूज | सक्ती

मारवाड़ी समाज की महिलाओं द्वारा चैत्र नवरात्र के तीसरे दिन गणगौर माता की पूजा-आराधना भक्ति भाव से की गई। सुहागिन महिलाएं एवं युवतियां एक जगह इकट्ठा हुई और सामूहिक रूप से गणगौर माता की पूजा की।

हलवा, पूडी, माता के वस्त्र के साथ सुहाग सामग्री की पेटी माता को भेंट की गई। महिलाओं ने उपवास रखा और माता की आराधना की। शाम को पूजा एवं आरती के पश्चात इसका विसर्जन तालाब-नदी में करने के बाद घर के बड़े बुजुर्ग का आशीर्वाद लेकर प्रसाद ग्रहण किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sakti

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×