Hindi News »Chhatisgarh »Sakti» ग्रामीणों ने शिकायत की तो एसडीएम ने कराई थी डोंगिया की जमीन की जांच

ग्रामीणों ने शिकायत की तो एसडीएम ने कराई थी डोंगिया की जमीन की जांच

सक्ती। डोंगिया की जिस जमीन में घोटाला का मामले में नगर के एक बड़े व्यापारी के ऊपर धोखाधड़ी का जुर्म दर्ज हुआ है उस...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 15, 2018, 05:10 AM IST

सक्ती। डोंगिया की जिस जमीन में घोटाला का मामले में नगर के एक बड़े व्यापारी के ऊपर धोखाधड़ी का जुर्म दर्ज हुआ है उस मामले की शिकायत वहां के ग्रामीणों ने की थी। ग्रामीणों की शिकायत के बाद ही एसडीएम ने जांच कराई इसके बाद ही जगदीश बंसल व अन्य लोगों के खिलाफ जुर्म दर्ज किया गया है।

नगर के व्यापारी नेता व चैंबर ऑफ कॉमर्स के प्रदेश उपाध्यक्ष तथा भारतीय जनता पार्टी के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के संयोजक जगदीश बंसल के द्वारा डोंगिया पोरथा के दो ग्रामीण की नेशनल हाईवे से लगी जमीन खरीदी गई थी। इस जमीन की रजिस्ट्री कराने के लिए विक्रेता नत्थूराम सतनामी, मोजेलाल सतनामी व क्रेता जगदीश बंसल तीनों ने ही झूठा बयान दिया। जमीन को नेशनल हाइवे से 500 मीटर दूर बताकर रजिस्ट्री कराई थी। रजिस्ट्री में सरकार को 2 लाख 21 हजार रुपए राजस्व का नुकसान हुआ था। ग्रामीणों की शिकायत के बाद एसडीएम इंद्रजीत बर्मन ने उस जमीन की जांच राजस्व विभाग से कराई। जिसमें यह तथ्य सामने आया कि जमीन सड़क से लगी है और इसकी रजिस्ट्री कराने में स्टांप ड्यूटी की चोरी की गई है। एसडीएम ने उपपंजीयक से राजस्व के नुकसान की जांच कराई तो स्पष्ट हुआ कि नियत राशि से कम पैसे का स्टांप का उपयोग किया गया है। एसडीएम ने तहसीलदार को एफआईआर कराने के निर्देश दिए थे।

भास्कर फालोअप

मुक्तिधाम की जमीन में अब तक नहीं हुई कार्रवाई

मुक्तिधाम की जमीन को निकालने के लिए राजस्व अधिकारियों ने नाप तो करा दी, लेकिन अभी तक इस जमीन को मुक्त कराने के लिए कार्रवाई नहीं की। संघर्ष समिति के सदस्यों ने बैठकें की, जुलूस निकाला, ग्रामीण क्षेत्रों में भी माहौल बनाने का प्रयास किया, दोनों पक्षों का विवाद सोशल मीडिया में वायरल हाेने के बाद थाना में शिकायत की गई थी। इस पर भी पुलिस ने अभी तक कार्रवाई नहीं की।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sakti

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×