Hindi News »Chhatisgarh »Sakti» दूसरे दिन भी भोले भंडारी की आराधना

दूसरे दिन भी भोले भंडारी की आराधना

इस वर्ष महाशिवरात्रि दो दिन पड़ने से दूसरे दिन भी भक्तों की टोली लक्ष्मणेश्वर भगवान का दर्शन करने के लिए पहुंची।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 15, 2018, 05:10 AM IST

दूसरे दिन भी भोले भंडारी की आराधना
इस वर्ष महाशिवरात्रि दो दिन पड़ने से दूसरे दिन भी भक्तों की टोली लक्ष्मणेश्वर भगवान का दर्शन करने के लिए पहुंची। हालांकि बारिश के कारण उत्साह दूसरे दिन भी फीका रहा।

इस वर्ष दो दिनों की महाशिवरात्रि मनाई गई। हालांकि प्रदेश भर में पहले ही दिन मंगलवार को शिव आराधना के लिए दिन भर समय होने के कारण उत्तम माना गया था, लेकिन दूसरे दिन भी महाशिवरात्रि का योग होने के कारण दूसरे दिन भी इस व्रत की मान्यता रही। बुधवार की रात से हो रही बारिश के कारण दोनों दिन उत्साह कुछ कम रहा अन्य वर्षाें की तुलना में इस वर्ष दर्शन कने के लिए कम लोग ही पहुंचे। पर सरकारी छुट्‌टी होने के कारण पहले दिन की अपेक्षा अच्छी भीड़ रही। लोगों को अधिक समय तक लाइन लगाना नहीं पड़ा।

बस स्टैण्ड स्थित शिव मंदिर में पूजन संपन्न

भास्कर न्यूज | बाराद्वार

महाशिवरात्रि के अवसर पर मंगलवार को स्थानीय बस स्टैण्ड में स्थित शिवशंकर मंदिर में महाशिवरात्रि मनाई गई। महाशिवरात्रि के दिन 13 फरवरी को मंदिर में सुबह 6 बजे से महारूद्राभिषेक विशेष पूजा अर्चना के साथ प्रारंभ हुआ। शाम 6 बजे शिवशंकर मंदिर से भगवान शंकर का रथ में आकर्षक झॉकी सजाकर गाजे बाजे एवं धुमाल बैंड के साथ बारात निकाली गई महाआरती के बाद प्रसाद वितरण हुआ। शिव जी की बारात में विशेष रूप से शंकर भगवान, भूत प्रेत, शिव जी की सवारी, शेर, भालू, नंदी एवं सभी शिवगणों की वेशभूषा में सजे थे। 14 फरवरी को दोपहर 12 बजे से मां काली मंदिर परिसर में भण्डारा का आयोजन किया गया।

शिवसेना इकाई ने मंदिर में चढ़ाया ध्वज

शिवरीनारायण | छत्तीसगढ़ शिवसेना खरौद इकाई द्वारा भगवान लक्षणेश्वर मन्दिर में महाशिवरात्रि के अवसर पर सुबह 11 बजे ध्वजा चढ़ाया गया। शिव सेना सदस्य भगवा झंडा लेकर जय श्री राम एवं हर हर महादेव के नारे लगाते हुए गांधी चौक से मांझा पारा, तिवारी पारा होते हुए मंदिर पहुंचे। नगर प्रमुख धनंजय रात्रे, सौरभ केशरवानी, अमर आदित्य, श्याम, दुर्गेश, अरुण साहू व समस्त सदस्य शामिल रहे।

लक्ष्मणेश्वर महादेव को फूलों से सजाया गया था।

शिव जी की निकली झांकी

शिव आराधना करने तुर्रीधाम में लगा भक्तों का तांता

तुर्रीधाम में शिवभक्तों का सुबह से ही दर्शन के लिए दिनभर लगा रहा तांता।

भास्कर न्यूज | सक्ती

महाशिवराित्र पर्व पर समीपस्थ ग्राम तुर्रीधाम में शिवभक्तों का तांता लगा रहा। सुबह से ही दर्शन-पूजन के अलावा जल चढ़ाने के लिए लोगों की भीड़ जुटने लगी थी। मंदिर परिसर में लंबी कतार लगी रही। लोगांे ने बारी-बारी से भगवान भोलेनाथ की पूजा-अर्चना की और मंगलकामना मांगी।

भीड़ के चलते लंबी लाइन लगी थी। जिसके चलते भक्तों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। सुरक्षा के लिए थाना नगरदा एवं आसपास के थाना प्रभारी सहित पुलिस जवानों की ड्यूटी मंदिर परिसर में लगाई गई थी। अप्रिय घटना न हो इसके लिए भक्तों का कतार से बारी-बार मंदिर अंदर जाने दिया जा रहा था। सुबह से देर शाम तक मंदिर में लोगांे के पहुंचने का सिलसिला चलता रहा। उपवास रखने वाले भक्तों ने भोलेनाथ की पूजा अर्चना कर प्रसाद खाकर अपना उपवास तोड़ा। महाशिवरात्रि पर तुर्रीधाम में मेले की भी शुरूआत हो गई।

मेले में झूले, टूरिंग टॉकीज, होटल, मनिहारी दुकान, चना उखडा, नारियल दुकानें आई है। जनपद पंचायत सक्ती द्वारा मेले में पेयजल व्यवस्था समेत सारी व्यवस्था की गई है। मेला एक सप्ताह तक लगेगा।

रेलवे स्टेशन धर्मशाला से निकाली शिव की बारात

भगवान शंकर की निकाली गई जीवंत झांकी

भास्कर न्यूज | सक्ती

महाशिवरात्रि पर नगर के युवा शिवभक्तों ने भगवान भोलेनाथ की बारात निकाली। रेलवे स्टेशन धर्मशाला से डीजे, कर्मा और बैंड-बाजे की धुन पर बारिश के बीच नाचते-गाते शिवभक्त बाराती नगर के विभिन्न मार्गों से होते हुए रामजानकी मंदिर पहुंचे। यहां शिव-पार्वती विवाह का आयोजन संपन्न हुआ।

स्थानीय शुभम भवन में भंडारा का आयोजन हुआ जिसमें नगर सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों ने शामिल होकर प्रसाद ग्रहण किया। मंगलवार को सुबह से ही रूक-रूककर बारिश होती रही। बारिश के दौरान ही भगवान शिव की बारात निकली मार्ग में विभिन्न स्थानों पर लोगों द्वारा बारातियों का जलपान के साथ स्वागत किया। बारात में भगवान भोलेनाथ के अनुचर भूत, पिचाश, नंदी सहित छोटे बच्चों द्वारा बनायी गई भगवान कृष्ण और राधा की जीवंत झांकी आकर्षण का केन्द्र रही। भोलेनाथ के रूप में नगर के युवक बन्टी शर्मा व पार्वती के रूप में टिक्कल शर्मा ने अपनी सहभागिता निभाई।

आयोजन को सफल बनाने में आयोजन समिति के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं समेत नगरवासियों का योगदान रहा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sakti

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×