Hindi News »Chhatisgarh »Sakti» भिखारी- माता जी, क्य

भिखारी- माता जी, क्य

सक्ती अकलतरा बाराद्वार बलौदा डभरा मालखरौदा ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 24, 2018, 05:45 AM IST

भिखारी- माता जी, क्य
सक्ती अकलतरा बाराद्वार बलौदा डभरा मालखरौदा


भिखारी- माता जी, क्या इस गरीब को केक मिलेगा? महिला- क्यों, रोटी से काम नहीं चल सकता? भिखारी- नहीं माता जी, चल सकता है, लेकिन मेरा आज बर्थ डे है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sakti

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×