• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Saraipali
  • शिक्षक महासंघ ने संविलियन, नागरिकों ने की सराईपाली को जिला बनाने की मांग
--Advertisement--

शिक्षक महासंघ ने संविलियन, नागरिकों ने की सराईपाली को जिला बनाने की मांग

Saraipali News - मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के सराईपाली आगमन पर छत्तीसगढ़ शिक्षक महासंघ के प्रतिनिधि मंडल ने शिक्षक पंचायत संवर्ग के...

Dainik Bhaskar

Mar 12, 2018, 02:55 AM IST
शिक्षक महासंघ ने संविलियन, नागरिकों ने की सराईपाली को जिला बनाने की मांग
मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के सराईपाली आगमन पर छत्तीसगढ़ शिक्षक महासंघ के प्रतिनिधि मंडल ने शिक्षक पंचायत संवर्ग के विभिन्न समस्याओं के निराकरण के लिए ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में पंचायत संवर्ग के सभी शिक्षकों के शिक्षा विभाग में संविलियन, अनुकंपा नियुक्ति के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा व प्रशिक्षण की अनिवार्यता भी समाप्त किए जाने, समतुल्य वेतनमान के लिए 8 वर्ष की बंधन समाप्त करने सहित कई मांगें कीं। इन सात सूत्रीय मांगों को लेकर छग शिक्षक महासंघ के प्रांतीय उपाध्यक्ष जयंत बारीक, खीरसागर पटेल, अनिल पटेल, देवप्रसाद चौहान, हेमंत चौधरी, करूणा साहू, महावीर भोई ने ज्ञापन सौंपा।

सराईपाली को जिला बनाने दिया सौंपा ज्ञापन: सराईपाली-बसना जिला बनाओ संघर्ष समिति के जयदेव भोई ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा गया।

जिसमें सराईपाली बसना को जिले का दर्जा प्रदान करने के साथ कहा गया है कि सराईपाली बसना को सारंगढ़ जिले में नहीं जोड़ा जाए। सराईपाली को जिला बनने की मांग के पीछे इसकी भौगोलिक स्थिति के साथ विभिन्न सभी विभागों के कार्यालय, आवागमन सुगम मार्ग के साथ केन्द्रीयकृत नगर होना है। यहां पर सिंचाई विभाग, पीएचई, आरइएस, लोक निर्माण, दूर संचार, 100 बिस्तर अस्पताल, नवोदय, केंद्रीय विद्यालय, एडीजे कोर्ट, कुटुंब न्यायालय, विद्युत न्यायालय, विद्युत विभाग का संभागीय कार्यालय होने के साथ एयरबेस कैंप के खुलने की बात भी कही जा रही है। मांग पत्र देते समय सवरा समाज के प्रांताध्यक्ष जयदेव भोई, युवा कार्यकारी प्रांताध्यक्ष अनंतराम बिशी, युवा मोर्चा अध्यक्ष महेश नायक, जिला पंचायत अनिता चौधरी आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे। पूर्व में राष्ट्रपति राज्यपाल और प्रधानमंत्री के नाम से ज्ञापन भेजा जा चुका है।

X
शिक्षक महासंघ ने संविलियन, नागरिकों ने की सराईपाली को जिला बनाने की मांग
Astrology

Recommended

Click to listen..