Home | Chhatisgarh | Saraipali | छड़ ले जा रहे ट्रैक्टर की ट्राॅली पलटने से दो लोगों की हुई मौत, एक घायल

छड़ ले जा रहे ट्रैक्टर की ट्राॅली पलटने से दो लोगों की हुई मौत, एक घायल

सराईपाली| सरसीवां मार्ग पर बालसी नाला के पास छड़ ले जा रहे ट्रैक्टर की ट्राली पलट गई। इसके चलते उसमें सवार दो...

Bhaskar News Network| Last Modified - Mar 31, 2018, 04:10 AM IST

छड़ ले जा रहे ट्रैक्टर की ट्राॅली पलटने से दो लोगों की हुई मौत, एक घायल
छड़ ले जा रहे ट्रैक्टर की ट्राॅली पलटने से दो लोगों की हुई मौत, एक घायल
सराईपाली| सरसीवां मार्ग पर बालसी नाला के पास छड़ ले जा रहे ट्रैक्टर की ट्राली पलट गई। इसके चलते उसमें सवार दो युवकों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। तीसरे को प्राथमिक इलाज के बाद रायपुर रेफर किया।

घटना शुक्रवार लगभग दोपहर एक बजे की है। ट्रैक्टर क्रमांक सीजी 06 जीएफ 3428 की ट्राली में छड़ भरकर ले जा रहा था। इसी दौरान बालसी नाला के पास अनियंत्रित होने के चलते ट्रैक्टर की ट्राली पलट गई। ट्राली पलटने से इसमें बैठे सुखापाली के हरीश र|ाकर (17) और अनिल र|ाकर (19) की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वहीं अशोक र|ाकर को गंभीर हालत में इलाज के लिए सराईपाली के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से उसे रायपुर रेफर किया गया। बताया गया कि इस घटना के बाद वाहन का चालक वहां से फरार हो गया। सराईपाली पुलिस में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। ग्रामीणों क्षेत्रों में इस तरह छड़ भर ट्राली से परिवहन किया जाना आम बात हो गई। इसमें ट्रैक्टर ट्राली में जितना हिस्सा छड़ का रहता है उतना ही बाहर निकलकर सड़क में घसीटता रहता है।

सराईपाली. छ़ड़ भरकर जा रहे ट्रैक्टर की ट्राली पलटी।

सरिए से भरे ट्रैक्टर आबादी क्षेत्र से गुजर रहे, खतरा

बागबाहरा| यातायात की बिगड़ी व्यवस्था से लोग बुरी तरह प्रभावित हो रहे हैं। रोजाना छोटी-बड़ी दुर्घटनाएं हो रही है। यातायात व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए पुलिस प्रशासन भी कोई कारगर काम नहीं कर रहा है। बेतरतीब भारी वाहनों की आवाजाही से जगह-जगह जाम की स्थिति बनी रहती है। नगर के व्यस्ततम मार्ग पर भारी वाहनों की आवाजाही पर जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा व्यवस्था नहीं बना पाने के कारण यहां लगातार ट्रैफिक जाम की स्थिति बनी रहती है। नगर के मुख्य मार्ग पर स्थित वेयर हाउस व खाद्य निगम के कारण झलप चौक तक वाहनों की लंबी कतारें लगती है। दिनभर जाम की स्थिति के कारण आसपास के दुकानदारों का व्यवसाय भी बुरी तरह प्रभावित हो रहा है। सरिया और बिल्डिंग मटेरियल से भरी हुई ट्रैक्टर-ट्रालियां तेज रफ्तार से गुजरती है। जिसके कारण स्कूली बच्चों में भय का माहौल बना रहता है। साथ ओवरलोड करने वाले वाहनों पर कार्रवाई नहीं की जा रही है। सुबह 4 से लेकर 6 बजे तक ट्रक व कारों की चपेट में आकर मार्निंग वाक को निकले पैदल यात्री और साइकिल सवार दुर्घटनाओं का शिकार होते हैं।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now