Hindi News »Chhatisgarh »Saraipali» बाइपास बनने का फायदा नहीं, भारी वाहन नगर से होकर निकल रहे, समस्या यथावत

बाइपास बनने का फायदा नहीं, भारी वाहन नगर से होकर निकल रहे, समस्या यथावत

बाइपास बनने के बाद नगर के लोगों ने सोचा था कि यातायात समस्या से निजात मिल जाएगी लेकिन आज भी यातायात समस्या पहले...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 24, 2018, 07:15 PM IST

बाइपास बनने के बाद नगर के लोगों ने सोचा था कि यातायात समस्या से निजात मिल जाएगी लेकिन आज भी यातायात समस्या पहले जैसी ही बनी हुई है। इसका बड़ा कारण ओडिशा से सरसींवा रोड़ होकर बलौदाबाजार बिलासपुर, कोरबा की तरफ जाने वाली गाडिय़ां नगर से होकर गुजर रही हैं। जिससे भारी वाहनों का आना-जाना सतत बना रहता है।

इसके अलावा छुईपाली टोल टैक्स बचाने के लिए बहुत से भारी वाहन सरसींवा मार्ग पर सागरपाली भंवरपुर होकर बिहारी ढाबा निकलती है। इस तरह वाहनों की रेलमपेल दिन भर बनी रहती है। नगर के करीब एक दर्जन स्कूल के प्राचार्यों ने इस समस्या को हल करने के लिए पहले ही प्रशासन को पत्र लिखा है। अग्रवाल समाज के पूर्व अध्यक्ष नरेश चंद्र अग्रवाल का कहना है कि बाइपास बनने के बाद भी अगर नगर की ट्रेफिक कम नहीं होती है तो सीधा माना जाएगा बाइपास जो बनाया गया है वह अदूरदर्शिता पूर्ण था। आज सरसींवा सारंगढ़ मार्गों को जोड़ते हुए बाइपास बनाने की आवश्यकता है। स्काउट गाइड संघ के अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता का कहना है कि वर्तमान में बाइपास गलत बनाया गया है। अब कम से कम एप्रोच रोड़ टू लाइन की सारंगढ़, जम्हारी, सरसींवा और भंवरपुर रोड़ को कवर करते हुए बनाई जानी चाहिए तभी नगर को बाहरी ट्रेफिक से राहत मिल पाएगी।

सराईपाली| कई मार्ग के लिए बाइपास नहीं होने के कारण ट्रकों की भीड़ शहर में रहती है।

सड़क को विकसित करने की जरूरत

बैतारी से बोंदा वहां से दर्राभांठा बैदपाली होते हुए बालसी के पास धरसा निकला है बालसी से भंवरपुर रोड़ होते हुए हर्राटार के पास पहले ही ग्रामीण सड़क बनी हुई है उसे विकसित किए जाने की जरूरत है। यह मांग 10 साल पहले भी उठाई जा चुकी है।

हमेशा दुर्घटना की आशंका

नगर के दिलीप गुप्ता का कहना है कि वर्तमान में नगर को असुरक्षित यातायात की परेशानी से जुझना पड़ रहा है। दुर्घटना की आशंका सदैव बनी रहती है। सारंगढ़ व सरसीवा मार्ग से आने वाली भारी ट्रकों का नगर के अंदर से गुजरना खतरों को बढ़ा रहा है। इन मार्गों को जोड़ते हुए रिंगरोड़ के लिए हमारे जन प्रतिनिधियों को ध्यान देना चाहिए। कांग्रेस व्यापार प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष पंकज बग्गा का कहना है कि शासन के सामने जनता की सुरक्षा पहले होनी चाहिए। उसके लिए गांव से आने वाले लोग ज्यादातर ऐसे भीड़भाड़ वाले यातायात में शिकार होते हैं। बाहरी ट्रेफिक को नगर मे आने से हर स्थिति में रोका जाना चाहिए जो यहां से गुजर रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Saraipali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×