• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Saraipali
  • साफ सफाई व दवा का छिड़काव नहीं होने से मच्छर पनप रहे मच्छर

साफ-सफाई व दवा का छिड़काव नहीं होने से मच्छर पनप रहे मच्छर / साफ-सफाई व दवा का छिड़काव नहीं होने से मच्छर पनप रहे मच्छर

Saraipali News - इन दिनों नगर में डबरे, नाली के कारण मच्छर बढ़ गए हैं। तेज गर्मी के बाद भी मच्छरों की समस्या से लोगों को राहत नहीं मिल...

Bhaskar News Network

May 25, 2018, 02:55 AM IST
साफ-सफाई व दवा का छिड़काव नहीं होने से मच्छर पनप रहे मच्छर
इन दिनों नगर में डबरे, नाली के कारण मच्छर बढ़ गए हैं। तेज गर्मी के बाद भी मच्छरों की समस्या से लोगों को राहत नहीं मिल रही है। लोग मलेरिया से पीड़ित हो रहे हैं। पूर्व में डीडीटी का छिड़काव कभी-कभी होता था और मेडिकेटेड मच्छरदानी का वितरण भी किया जाता था। यह भी पिछले कई साल से नहीं हुआ है।

मच्छर भगाने के क्वायल, लिक्विड सहित अन्य दवाओं का लोग उपयोग तो कर रहे हैं, लेकिन इसका भी स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। नगर में नालियों की नियमित सफाई नहीं की जा रही है जिसके कारण मच्छरों की संख्या बढ़ती जा रही है। दूसरी ओर नई मंडी के सामने खेत में नाली का पानी जमा हो रहा है।

हर कोई है मच्छरों से परेशान : नगर की नालियों की नियमित सफाई नहीं होने के कारण मच्छरों पर नियंत्रण नहीं हो रहा है। नगर में नालियों का निर्माण जिस ढंग से हुआ है उससे हर वार्ड की नालियां गंदगी से बजबजाई रहती है। जहां मच्छर पनप रहे हैं।

दवाई के लिए टेंडर निकाला गया: सीएमओ : नगरपालिका सीएमओ केएस नायक का कहना है मच्छरों की रोकथाम के लिए दवाई मांगने टेंडर निकाला जाएगा। इसके बाद उसको प्रभावी ढंग से छिड़काव किया जाएगा।

सराईपाली|नई मंडी के सामने खेत में नाली का पानी हो रहा जमा।

बचाव के लिए डाल रहे फिनाइल

कई लोग साफ-सफाई करने के साथ-साथ आसपास जहां पानी या गंदगी को वहां फिनाइल डालते हैं, जिससे लार्वा नहीं पनप पाते। साथ ही शाम के समय नारियल के रेशे या नीम की सूखी पत्ती, सूखे गोबर को जलाकर उसका धुंआ करते हैं।

खेतों में नमी से भी पनप रहे मच्छर

गांव में गर्मी की फसल के कारण शाम के बाद साइकिल और बाइक में निकलने पर मच्छरों से बचना मुश्किल हो जाता है, खेती की नमी और पानी से बेताहशा मच्छर पनप रहे हैं, रात में ग्रामीण इसके आक्रमण से परेशान रहते है।

X
साफ-सफाई व दवा का छिड़काव नहीं होने से मच्छर पनप रहे मच्छर
COMMENT